कांग्रेस को झूठ बोलने पर काबू करना चाहिए

0
135

तमिलनाडु | आने वाले टाइम में 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए पिछले एक महीने से देश के दिग्गज नेता अलग अलग जगहों पर चुनावी रैलियों को सम्बोधित कर रहें हैं। रैलियों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत पश्चिम बंगाल की मुक्यमंत्री ममता बनर्जी और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी समेत सभी नेता एक दुसरे के ऊपर तंज कसने में लगे हुए हैं। आरोपों का एक सैलाब आया हुआ है जो किसी का राजनीति का सफर ख़तम कर सकता है तो किसी का नया सफर शुरू कर सकता है।

इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज तमिलनाडु और केरल के चुनावी दौरे पर हैं। तमिलनाडु के मदुरै में पहुंचने पर तमिलनाडु के उपमुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने पीएम मोदी का स्वागत किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने यहां जनसभा को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि 1980 के दशक में कांग्रेस ने एमजीआर की लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित सरकार को खारिज कर दिया था। यहां दोबारा चुनाव हुए और वह मदुरै से फिर से जीत गए। 1977, 1980 और 1984 में एमजीआर ने दक्षिणी तमिलनाडु से जीत हासिल की।

यह भी पढ़े –अखिलेश का नही बना सीन , शिवपाल ने लगवाई वैक्सीन

कांग्रेस और डीएमके काम नहीं करते – पीएम

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और डीएमके काम नहीं करने और जो वास्तव में काम करते हैं उनके बारे में झूठ फैलाने की कला में महारत हासिल कर चुके हैं। इसका एक उदाहरण मदुरै एम्स है। उनकी कई सालों की सत्ता में उन्होंने इसके बारे में सोचा भी नहीं। हमारी सरकार यहां एम्स लाई।

यह भी पढ़े – #UttarPradeshCorona: 11 अप्रैल तक कक्षा 8 तक के सभी स्कूल बंद

एनडीए सरकार सकारात्मक बदलाव लाने के लिए काम कर रही है-मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के मंत्र से प्रेरित होकर एनडीए सरकार 130 करोड़ भारतीयों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए काम कर रही है। तमिलनाडु और विशेष रूप से दक्षिणी तमिलनाडु के लिए हम बुनियादी ढांचे, सिंचाई, निवेश पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं।

कांग्रेस को झूठ बोलने पर काबू करना चाहिए

कांग्रेस और DMK के पास बात करने के लिए कोई एजेंडा नहीं है लेकिन उन्हें अपने झूठ बोलने पर काबू करना चाहिए क्योंकि लोग बेवकूफ नहीं हैं। कांग्रेस-DMK खुद को तमिल संस्कृति के ​इकलौते संरक्षक के रूप में दिखाते रहते हैं लेकिन तथ्य कुछ और ही कहते हैं: मदुरै में प्रधानमंत्री

यह भी पढ़े – बंगाल का चुनाव चाहे जितना कड़वा हो, लेडीकेनी उतनी ही टेस्टी

‘तमिल का बताते हैं रक्षक..लेकि सच्चाई कुछ और’

पीएम ने कहा कि कांग्रेस और DMK आपके लिए सुरक्षा या सम्मान की गारंटी नहीं देंगे। कानून-व्यवस्था उनके अंडर होगी और लोग संघर्ष करेंगे। DMK ने पहले भी शांतिप्रिय मदुरै को माफिया की मांद में फंसाने का काम किया। कांग्रेस-डीएमके खुद को तमिल संस्कृति के एकमात्र रक्षक के रूप में दिखाते रहते हैं, लेकिन तथ्य कुछ और ही बताते हैं।

‘महिलाओं को करते हैं अपमानित’

मोदी ने कहा कि नारी शक्ति को सशक्त बनाने पर मदुरै हमें महत्वपूर्ण सबक सिखाता है। अफसोस की बात है कि डीएमके और कांग्रेस ने मदुरै के लोकाचार को नहीं समझा। कोई आश्चर्य नहीं कि उनके नेता बार-बार महिलाओं का अपमान करते रहते हैं।

यह भी पढ़े – #CoronaVirus: महाराष्ट्र में हालात बेकाबू, ब्लड बैंक में खून की कमी

मीनाक्षी मंदिर में की पूजा अर्चना

इससे पहले पीएम मोदी गुरुवार देर शाम ही तमिलनाडु पहुंच गए थे। देर शाम तमिलनाडु पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले मदुरै के प्रसिद्ध मीनाक्षी मंदिर में पूजा अर्चना की। इस खास मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पारंपरिक कपड़ों में नजर आए। मंदिर पहुंचने पर मीनाक्षी सुंदरेश्वरर मंदिर में उनका जोरदार स्वागत किया गया।

24 मई को पूरा हो रहा विधानसभा का कार्यकाल

तमिलनाडु विधानसभा का कार्यकाल 24 मई को पूरा हो रहा है। तमिलनाडु में पिछले 10 सालों से ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम का शासन है। राज्य की जनता ने वर्ष 2016 के विधानसभा चुनाव में जे जयललिता को दोबारा गद्दी सौंपी थी। इस चुनाव में अन्नाद्रमुक को 135 सीटों पर विजय हासिल हुई थी जबकि द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) 88 सीटों पर सिमट गई थी। कांग्रेस को आठ सीटें मिली थी जबकि बीजेपी का खाता भी नहीं खुल सका था। इस बार के विधानसभा चुनाव में अन्नाद्रमुक और बीजेपी का गठबंधन हुआ है और उसका मुकाबला द्रमुक और कांग्रेस गठबंधन से होगा।

यह भी पढ़े – #CoronaVirus: महाराष्ट्र में हालात बेकाबू, ब्लड बैंक में खून की कमी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here