Friday, April 16, 2021
Homeदमदार ख़बरेंख़ास ख़बरलखनऊ में कल से नाइट कर्फ्यू, 9 से सुबह 6 बजे तक...

लखनऊ में कल से नाइट कर्फ्यू, 9 से सुबह 6 बजे तक बाहर निकलने पर लगी रोक

लखनऊ | उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में बुधवार को प्रदेश में छह हजार से ज्‍यादा मिले संक्रम‍ित मरीजों व 40 मौतों ने राज्‍य को ह‍िला कर रख दिया। बुधवार रात मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने निर्देश दिया कि यूपी के जिन जिलों में 500 से अधिक कोविड के केस हैं, वहां 8 अप्रैल से रात 9 बजे से सुबह 5 तक नाइट कर्फ्यू/ प्रतिबंध डीएम अपने-अपने राज्‍यों में लगाएं। इसके साथ ही मुख्‍यमंत्री ने बैठक में कहा कि भीड़ वाली जगह चिन्हित करें, वहां सख्‍ती करिये, चालान करिए न सुधरें तो सील कर दीजिए। इसी क्रम में लखनऊ में आठ अप्रैल से नाइट कर्फ़्यू लगाया जा रहा है।

16 अप्रैल तक व्‍यवस्‍था लागू 

लखनऊ नगर निगम क्षेत्र में ड‍ीएम अभ‍िषेक प्रकाश ने 8 अप्रैल से शहर में रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक प्रत्येक दिन रात्रि कालीन कर्फ्यू लगाया है। यह रात्रि कालीन कर्फ्यू 16 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक रहेगा। दिन में सुबह 6 बजे से शाम 9 बजे तक कोविड प्रोटोकाल के साथ काम चलता रहेगा। आवश्यक की वस्तु को ही लाने व ले जाने की छूट होगी। फल, सब्जी, दूध, एलपीजी, पेट्रोल – डीजल और दवा की सप्लाई जारी रहेगी। रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, एयरपोर्ट पर आने जाने वाले लोग अपना टिकट दिखाकर आ-जा सकेंगे। इसके साथ ही हर प्रकार की मालवाहक गाड़ियों के आने – जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा।

यह भी पढ़े – मायावती बोलीं ‘चुनावी रैली में कोरोना नियमों का हो रहा उल्लंघन’

लखनऊ में वर्ष 2020 के मुकाबले ज़्यादा भयानक हुआ कोरोना 

वर्ष 2020 के मुकाबले कोरोना बुधवार को 21 साबित हो गया। राजधानी लखनऊ में एक दिन में सर्वाधिक 1333 संक्रमित पाए गए हैं। वहीं, पिछले वर्ष रोजाना संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या कभी भी 1300 के आंकड़े को पार नहीं कर सकी थी। मगर 2021 में मार्च की शुरुआत से ही कोरोना ने घातक रुख अख्तियार कर लिया है। बुधवार को छह संक्रमितों की मौत हो गई। पिछले वर्ष 18 सितंबर को सर्वाधिक 1244 लोग संक्रमण की चपेट में आए थे।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि मंगलवार को 161270 नमूनों की जांच की गई। इस तरह अब तक प्रदेश में 3,55,75232 नमूनों की जांच की गई है। इनमें से 634033 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। कुल 604979 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

मुख्‍यमंत्री ने की 13 जनपदों की स्थिति की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंगf

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कोविड-19 से अति प्रभावित 13 जनपदों की स्थिति की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा करते हुए दिशा-निर्देश जारी क‍िए। उन्‍होंने कहा कि महाराष्ट्र के साथ-साथ दक्षिण भारत के कुछ राज्यों में कोविड संक्रमण की स्थिति तेजी से खराब हो रही है। ऐसी स्थिति में वहां निवासरत उत्तर प्रदेश के नागरिकों की वापसी संभावित है। पंचायत चुनाव की प्रक्रिया भी चल रही है। आने वाले दिन हमारे लिए चुनौतीपूर्ण होंगे। हमें इसका सफलतापूर्वक सामना करना है। पिछले वर्ष उत्तर प्रदेश के सभी जिलों ने कोविड प्रबंधन का बेहतरीन उदाहरण प्रस्तुत किया था, इस बार भी हम टीम वर्क से इस लड़ाई को जरूर जीतेंगे।

यह भी पढ़े – कल होगी अनिल देशमुख की याचिका पर सुनवाई : क्या सुप्रीम कोर्ट से मिलेगी राहत ?

इन जिलों में सबसे अधिक मरीज
लखनऊ 1333, प्रयागराज 811, वाराणसी 593, कानपुर नगर 300, झांसी 188, गोरखपुर 159, मेरठ 126, गौतमबुद्ध नगर 125, जौनपुर 109, चंदौली 108, आजमगढ़ 100

यूपी में संक्रमण का हाल
प्रति 10 लाख जनसंख्या में जांच- 150304
प्रति 10 लाख में पॉजिटिव मरीज- 2690
प्रत्येक 100 मरीज एक्टिव केस की संख्या – 04
मरीजों के ठीक होने की दर प्रति 100 मरीज- 94.31 प्रतिशत
मरीजों की मृत्यु दर प्रति 100 केस – 1.39 प्रतिशत

यह भी पढ़े – 33 साल पहले यूपी के महाधिवक्ता के पास पहुंचीं थीं अफसा, मुख्तार अंसारी के फर्जी एनकाउंटर की जताई आशंका, ऐसे बची थी जान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments