22 हजार से ज्यादा कोरोना केस फिर सामने

0
171

लखनऊ | देश में पिछले साल भी मार्च के महीने से कोरोना का कहर देखने को मिला था। कोरोना को भारत में आए अब एक साल पूरा हो चुका है। इस एक साल में इस वायरस ने हर क्षेत्र में भारत का नुकसान किया। चाहे वो अर्थव्यवस्था हो या गरीबो पर मार, हिन्दुस्तान के हर नागरिक ने इस वायरस से हुए नुकसान को महसूस किया।

एक समय हिन्दुस्तान इस वायरस से प्रभावित देशों में सबसे ऊपर हुआ करता था लेकिन धीरे धीरे इसका प्रभाव कम होने लगा था लेकिन अब एक बार फिर आलम यह है कि अब हर दिन कोरोना के मामले पिछले रिकॉर्ड को तोड़ रहे हैं। आज करीब ढाई महीनों बाद देश में कोरोना के 22 हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए हैं। ये इस साल कोरोना के मामलों में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी है। पिछले 24 घंटों में 22 हजार 854 मामले सामने आए वहीं 126 लोगों की जान चली गई।

यह भी पढ़े – बंगाल : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला, हाथ-पैर में आई चोट

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़े के मुताबिक, देश में बीते दिन 18 हजार 100 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं। अब देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 1 करोड़ 12 लाख 85 हजार 561 हो गए हैं। इनमें से एक लाख 58 हजार 189 लोगों की जान जा चुकी है। हालांकि एक करोड़ 9 लाख 38 हजार 146 लोग कोरोना को मात देकर ठीक भी हो चुके हैं। देश में अब एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 1 लाख 89 हजार 226 हो गई है यानी कि इतने लोग अभी कोरोना संक्रमित है।

कौन-कौन से राज्यों में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात, तमिलनाडु और केरल समेत देश के 6 राज्यों में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज हो रही है। पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु में कोरोना को लेकर स्थिति चिंताजनक है, वहीं केरल और महाराष्ट्र में स्थिति बहुत खतरनाक बनी हुई है। करीब 86 फीसदी मामले केवल इन 6 राज्यों के हैं।

यह भी पढ़े – ब्रिटेन में लगभग सभी महिलाओं का यौन उत्पीड़न हुआ है: सर्वे

गंभीर होती स्थितियों को देखते हुए मंत्रालय ने महाराष्ट्र और पंजाब में उच्च स्तरीय टीमें भी तैनात की हैं। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा नए मामलों के आने का सिलसिला जारी है और इस राज्य में 13 हजार 659 और मामले दर्ज किए गए. इसके बाद केरल में 2,316 और पंजाब में 1,027 नए मामले सामने आए और महाराष्ट्र के कई इलाकों में एक बार फिर लॉकडाउन भी लगा दिया गया है।

देश में कोरोना टीके की स्थिति
देश में अब तक लाभार्थियों को COVID-19 वैक्सीन की दो करोड़ नौ लाख से अधिक खुराक दी जा चुकी है। भारत ने वैक्सीनेशन के 2 चरण पूरे कर लिए है और 1 मार्च से तीसरे चरण का आगाज़ हो गया है जिसमे देश के सीनियर सिटिज़न्स को टीके लगने है। इस मौके पर देश के प्रधानमंत्री ने भी टीका लगवाया और देश के अन्य वरिष्ठ नागरिको का हौसला बढ़ाया।

यह भी पढ़े – औरतों की खातिर जान जोखिम में डालने वाली यह महिला फिर देगी सऊदी हुकूमत को चुनौती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here