आला हज़रत दरगाह के करीब एक मकान के सौदे पर तनानती, पलायन के लगाए पोस्टर

0
255
Dargah Ala Hazrat Bareilly
आला हज़रत दरगाह क्षेत्र में मकान के सौदे के विरोध में लोग.

द लीडर : दुनिया भर के सुन्नी-बरेलवी मुसलमानों के मरकज़ दरगाह आला हज़रत के पास एक मकान की बिक्री को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया है. इसको लेकर दो पक्षों में तनातनी का माहौल है. पुलिस के हस्तक्षेप के बाद भी मामला अभी सुलझा नहीं. लोगों ने घरों पर पलायन के पोस्टर लगाए दिए हैं. उनका इल्ज़ाम है कि दरगाह आला हज़रत से जुड़े लोग यहां एक-एक लगातार मकान खरीदते जा रहे हैं, जिससे मुहल्ले में हिंदू आबादी काफी कम हो गई है. (Dargah Ala Hazrat Bareilly)

यूपी के बरेली में आला हज़रत की दरगाह मुहल्ला सौदागरान में है. यहां पास में बिहारीपुर खत्रियान एक मुहल्ला है-उसकी दरगैया गली में मकान का सौदा हुआ है. दो भाईयों का मकान है. एक भाई ने इसका सौदा कर दिया तो दूसरा इसके ख़िलाफ है. महेश सेठ की ओर से डीएम को शिकायत पत्र दिया है, जिसमें मकान बिक्री पर रोक की मांग उठाई है.

मकान के सौदे पर विवाद की ख़बर से कुछ संगठन भी एक्टिव हो गए. और वे महेश सेठ के साथ घर के बाहर धरने पर बैठ गए. चूंकि मकान बिक्री का विवाद दो भाईयों के बीच का है. लेकिन लोगों की नाराजगी इस बात को लेकर कि मकान दरगाह से जुड़ी एक शख़्सियत ने खरीदा है. और ये लोग लगातार यहां लोगों के मकान खरीदते जा रहे हैं. (Dargah Ala Hazrat Bareilly)


इसे भी पढ़ें-बरेली : भोजीपुरा विधायक शहज़िल इस्लाम का जब विधानसभा में मुख्यमंत्री से हुआ सामना


 

इसको लेकर रात में काफी हंगाम भी हुआ. पुलिस ने किसी तरह से लोगों को शांत कराया. शनिवार को पुलिस ने दोनों पक्षों से बातचीत की. इसमें पहले तो दोनों भाईयों को मकान के विवाद को निपटाने को कहा गया है. और मकान खरीदने वाले पक्ष से भी बात की गई है. पुलिस की चिंता ये है कि किसी तरह से ये विवाद टल जाए.

आपको बता दें कि मुहल्ला सौदागरान हिंदू बाहुल्य आबादी वाला इलाका है. जहां मुस्लिम समुदाय से महज आला हज़रत परिवार ही रहता है. दरगाह से करोड़ों लोगों की निस्बत है तो यहां रोज़ाना हज़ारों जायरीन का आना-जाना भी आम है. इससे पहले कभी भी यहां इस तरह का कोई विवाद देखने को नहीं मिला. (Dargah Ala Hazrat Bareilly)

लेकिन अब एक मकान के सौदे को लेकर ये विवाद तूल पकड़ता जा रहा है. तो पुलिस की बेचैनी लाजिमी है. बहरहाल पुलिस और प्रशासन मामले को प्राथमिकता पर डील कर रहा है. और विवाद से जुड़े सभी पक्षों से बातचीत की जा रही है.


(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)