ज्ञानवापी में मिली शिवलिंग : केशव प्रसाद मौर्य बोले- एक दिन सामने आ ही जाता है सत्य… क्योंकि ‘सत्य ही शिव’ है

0
216

द लीडर। वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद और शृंगार गौरी मंदिर विवाद मामले में अब नया मोड़ आ गया है। हिंदू पक्ष ने यह दावा किया है कि, वहां पर शिवलिंग है।

वहीं दूसरी तरफ हिंदू पक्ष के अधिवक्ता हरिशंकर जैन के बेटे विष्णुशंकर जैन का दावा है कि, शिवलिंग ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने में मिला है और इस दावे के बाद वाराणसी सिविल कोर्ट के जज रवि कुमार दिवाकर ने शिवलिंग की जगह सील कर सीआरपीएफ को सौंप दी।


यह भी पढ़ें: भारतीय किसान यूनियन से निकाले गए राकेश टिकैत, बोले- ये सरकार के इशारे पर हुआ

 

सत्य ही शिव है- केशव प्रसाद मौर्य

इन सभी के बीच अब उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने हिंदू पक्ष के दावे के ट्विट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि, ‘बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर ज्ञानवापी में बाबा महादेव के प्रकटीकरण ने देश की सनातन हिंदू परंपरा को एक पौराणिक संदेश दिया है।

सत्य को आप कितना भी छुपा लीजिए, लेकिन एक दिन सामने आ ही जाता है क्योंकि “सत्य ही शिव” है। बाबा की जय, हर हर महादेव।

आप सभी जानते ही होंगे कि, हिंदू पक्ष के वकील विष्णु शंकर जैन ने हाल ही में यह बताया है कि, सर्वे के दौरान शिवलिंग मिला है और जिसके बाद वाराणसी सिविल कोर्ट की जगह को सील करने का आदेश दिया गया है।

वाराणसी सिविल कोर्ट ने जिला प्रशासन से कहा है कि जिस जगह शिवलिंग मिला था, उसे सील कर उसे संरक्षित किया जाए और वहां पर किसी को जाने की अनुमति नहीं दी जाए।

मुस्लिम पक्ष बोला- हिंदू पक्ष का दावा गलत

वहीं दूसरी तरफ मुस्लिम पक्ष का दावा है कि, वहां पर ऐसा कुछ नहीं मिला है और हिंदू पक्ष का दावा गलत है। ऐसे में हिंदू पक्ष ने इस मामले में कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और जहां पर शिवलिंग मिलने की बात कही जा रही है, उसे सीआरपीएफ के हवाले करने को कहा।

यह जानने के बाद कोर्ट ने आदेश दिया और कहा कि, वजुखाना को अब सीआरपीएफ के हवाले कर दिया जाए। आज ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया और अब मंगलवार को कोर्ट में रिपोर्ट पेश की जानी है। आप सभी को बता दें कि कोर्ट कमिश्नर अपनी रिपोर्ट कोर्ट में पेश करेंगे।


यह भी पढ़ें:  उपराष्ट्रपति नायडू शेख खलीफा के निधन पर शोक व्यक्त करने UAE पहुंचे