क्यों लगाया राहुल गाँधी ने भाजपा पर पश्चिम बंगाल को बर्बाद और विभाजित कर देने का आरोप ?

0
272

कोलकाता | पश्चिम बंगाल में होने वाले विधान सभा चुनाव के लिए सभी नेताओ के बीच घमासान चालु है। जैसे जैसे वक़्त नज़दीक आता जा रहा है वैसे वैसे नेता अब व्यग्तिगत आरोपों पर भी उतर आए है। पश्चिम बंगाल में विधान सभा चुनाव कुल 8 चरणों में होगा जिसमे से 4 चरण के चुनाव सफल तरीके से हो चुके है। इसी बीच आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने सिलीगुड़ी के निकट शिवमंदिर फुटबॉल मैदान में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया ।

यह भी पढ़े – CBSE 10वीं बोर्ड की परीक्षा हुईं रद्द : जानें कैसे आएगा रिजल्ट ?

रैली में राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा के पास देने के लिए नफरत और हिंसा के अलावा कुछ भी नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा का इरादा पश्चिम बंगाल को बर्बाद और विभाजित कर देने का है और आरोप लगाया कि भगवा दल असम और तमिलनाडु में भी यही काम कर रहा है।

वहीं, उत्तरी दिनाजपुर में एक रैली में कांग्रेस नेता ने कहा कि भाजपा सोनार बांग्ला बनाने की बात करती है लेकिन उसने पूरे देश को बर्बाद कर दिया है। राहुल गांधी ने सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल इकलौता ऐसा राज्य है जहां आपको नैकरियां पाने के लिए ‘कटमनी’ देना पड़ता है।

राहुल गांधी ने कहा, ‘असम के लोग कहते हैं कि उनके इतिहास और संस्कृति पर हमला हो रहा है। तमिलनाडु और बंगाल भी में भी ऐसा ही हो रहा है। भाजपा और आरएसएस जहां-जहां जाते हैं, वहां-वहां घृणा फैलने लगती है।’

यह भी पढ़े – प्रधानमंत्री की विचारधारा ने हमारे सबसे बड़े नेता महात्मा गांधी की हत्या की है-हम कभी समझौता नहीं कर सकते-राहुल गांधी

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पिछले साल फरवरी में मैंने और कांग्रेस के सभी नेताओं ने सामूहिक रूप से प्रधानमंत्री से कहा था कि भारत कोविड से प्रभावित होने वाला है। आप अर्थव्यवस्था, प्रवासी मजदूरों और छोटे स्तर के उद्योगों को बचाने की तैयारी शुरू कर दीजिए। प्रेस ने मेरा मजाक उड़ाया और कहा कि मैं लोगों को डराने की कोशिश कर रहा था।

राहुल गांधी ने ममता बनर्जी पर भी कसा तंज

उन्होंने ममता बनर्जी को भी कोसा कि क्या ममता बनर्जी कहीं मंच पर आकर कह सकती हैं कि उन्होंने लोगों को रोजगार दिया है। हिंदुस्तान में नरेंद्र मोदी और यहां पर ममता बनर्जी ने लोकतंत्र पर आक्रमण किया है। आपने सुना होगा, नरेंद्र मोदी कांग्रेस मुक्त भारत कहते हैं। कभी उन्होंने तृणमूल कांग्रेस मुक्त भारत कहा है? नहीं, क्यों? क्योंकि नरेंद्र मोदी और अमित शाह ममता से नहीं डरते। वे जानते हैं कि वे उन्हें कंट्रोल कर लेंगे। तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा से गठबंधन किया था। उनकी लड़ाई तो कांग्रेस से है। कांग्रेस सिर्फ एक संगठन नहीं है, कांग्रेस एक विचारधारा है। भाजपा और आरएसएस भी एक विचारधारा है।

यह विचारधारा की लड़ाई है। आज से ही नहीं बहुत पुरानी लड़ाई है। उनकी विचारधारा ने हमारे सबसे बड़े नेता, महात्मा गांधी की हत्या की। कांग्रेस कभी भी भाजपा व आरएसएस के साथ समझौता नहीं कर सकती है। मैं बीजेपी के खिलाफ खड़ा हो सकता हूं। नरेंद्र मोदी से बिना डरे बात कर सकता हूं। क्योंकि, मैंने एक रुपया चोरी नहीं किया है। उन्होंने आम लोगों से आह्वान किया कि देश को और राज्य को बचाना है तो कांग्रेस व संयुक्त मोर्चा कि हर जगह जीत सुनिश्चित कीजिए।

यह भी पढ़े – उत्तराखंड में सरकारी जमीन पर बनी दलित बस्तियां नियमित होंगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here