Prophet muhammad : नूपुर शर्मा के खिलाफ Bengal Assembly में निंदा प्रस्ताव पास, ममता बनर्जी बोलीं- अब तक क्यों नहीं हुई गिरफ्तारी ?

0
39

द लीडर। देश में एक तरफ अग्निपथ स्कीम को लेकर विरोध प्रदर्शन जोरों शोरों से हो रहा है। तो वहीं अभी पैगंबर के अपमान का मुद्दा भी शांत नहीं हुआ है। आज पश्चिम बंगाल में नूपुर शर्मा के खिलाफ निंदा का प्रस्ताव पास किया गया।

पं. बंगाल में नूपुर शर्मा के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास

पश्चिम बंगाल विधानसभा में नूपुर शर्मा द्वारा किए गए पैगंबर के अपमान को लेकर निंदा का प्रस्ताव पारित किया गया। वहीं सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि, अब तक नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी क्यों नहीं हुए। बता दें कि, नूपुर शर्मा के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित होने के बाद बंगाल विधानसभा से बीजेपी ने वॉकआउट कर दिया।


यह भी पढ़ें: अनिल देशमुख और नवाब मलिक को विधान परिषद चुनाव में मतदान की अनुमति SC ने खारिज की

कोलकाता पुलिस ने पैगंबर पर टिप्पणी के मामले में नूपुर शर्मा को पूछताछ के लिए आज बुलाया था। लेकिन उन्होंने व्यक्तिगत पेशी के लिए 4 सप्ताह का समय मांगा है। ममता सरकार ने आरोप लगाया है कि, भाजपा नफरत की राजनीति करती रही है। यही नहीं इससे पहले भी वह कई बार नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग कर चुकी हैं।

नूपुर शर्मा के खिलाफ लगातार विरोध

भाजपा से निष्कासित पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद को लेकर आपत्तिजनक बयानबाजी की गई थी। जिसको देखते हुए खाड़ी के देशों ने भी उनके इस बयान की निंदा की। वहीं भाजपा सरकार ने कार्रवाई करते हुए नूपुर शर्मा को पार्टी से बर्खास्त कर दिया। जिसके बाद से अब तक नूपुर शर्मा के खिलाफ विरोध लगातार देखने को मिल रहा है।

देश के मुस्लिम समेत कई लोग नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। जिसको लेकर आज पश्चिम बंगाल में निंदा प्रस्ताव पास किया गया। इसके साथ ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि, अब तक नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी क्यों नहीं की गई।

भाजपा कर रही भड़काने और घृणा की राजनीति

ममता बनर्जी ने विधानसभा में कहा कि, बीजेपी उकसाने, भड़काने और घृणा की राजनीति का रास्ता अपना रही है। उन्होंने कहा कि, हमारे राज्य में इस मामले को लेकर हिंसा हुई तो हमने कार्रवाई की है।

इस दौरान ममता बनर्जी ने सेना भर्ती की नई अग्निपथ स्कीम को लेकर सरकार पर हमला बोला। और कहा कि, नई अग्निपथ योजना के जरिए भारतीय जनता पार्टी अपना सशस्त्र कैडर आधार बनाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि, क्या बीजेपी की योजना चार साल की सेवा अवधि के बाद इन अग्निवीर सैनिकों को अपने पार्टी कार्यालयों में चौकीदार के रूप में तैनात करने की है।

अग्निपथ के विरोध के बीच 529 ट्रेनें रद्द

रेल मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि कम से कम 529 ट्रेनों को सोमवार को देश भर में रद्द कर दिया गया, जबकि 539 ट्रेनें केंद्र की अग्निपथ योजना के विरोध में बाधित होने के बाद प्रभावित हुईं।

बयान के अनुसार, चार मेल या एक्सप्रेस ट्रेनों को भी आंशिक रूप से रद्द किया गया. सोमवार को ‘भारत बंद’ के आह्वान के मद्देनजर कई राज्यों ने सुरक्षा कड़ी कर दी है।


यह भी पढ़ें:  अग्निपथ विरोध के बीच विपक्ष ने सरकार को घेरा : जानिए क्या बोले अखिलेश यादव और मायावती ?