ललितपुर दुष्‍कर्म कांड को लेकर गरमाई सियासत : अखिलेश, शिवपाल यादव और प्रियंका गांधी ने उठाए सवाल, कही ये बात ?

0
201

द लीडर। ललितपुर में रेप पीड़िता से रेप के मामले में सियासत गर्मा गई है. ललितपुर से लेकर लखनऊ, दिल्ली तक नेता इस मामले को लेकर सक्रिय हो गए हैं. समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने पीड़ित परिवार और नाबालिग से मुलाकात की. वहीं मामले में एडीजी जोन कानपुर द्वारा थाना पाली में तैनात 29 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है. मामले की जांच डीआईजी झांसी कर रहे हैं.


यह भी पढ़ें: दागदार हुई खाकी : गैंगरेप पीड़ित नाबालिग से थाने में की गई दरिंदगी, थानाध्यक्ष सस्पेंड, 6 लोगों पर केस दर्ज

 

अखिलेश यादव सरकार पर बोला हमला ?

मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने ने इस घटना को लेकर सरकार पर हमला किया है। सपा ने एक ट्वीट किया कि, भाजपा सरकार में सबसे बड़ा सवाल ये है कि किस पर भरोसा किया जाए किस पर नहीं? ललितपुर में रेप की शिकायत करने पहुंची नाबालिग से थाने में ही एसओ ने की दरिंदगी. अब मुख्यमंत्री बताएं कि पीड़ित बेटियां जाएं तो जाएं कहां? पीड़िता की सुरक्षा का इंतजाम कर दोषियों को मिले कठोरतम सजा.

शिवपाल यादव ने की कड़ी निंदा

वहीं इस मामले की प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने निंदा की है. शिवपाल सिंह यादव ने ललितपुर में एक 13 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और फिर शिकायत लेकर जाने पर थानेदार द्वारा बलात्कार की घटना पुलिस व्यवस्था की निष्ठुरता व नृशंसता की बानगी भर है।न जाने कितनी निरीह बेटियां ऐसी होंगी जिनके अपमान की करुण कथा नौकरशाही व पुलिस व्यवस्था की परिधि से बाहर ही न आ पाती होंगी।

कहां शिकायत करें महिलाएं : प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव और पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी सिलसिलेवार ट्वीट कर इस घटना पर सरकार को घेरा. प्रियंका ने कहा कि ललितपुर में एक 13 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और फिर शिकायत लेकर जाने पर थानेदार द्वारा बलात्कार की घटना दिखाती है कि ‘बुलडोजर’ के शोर में कानून व्यवस्था के असल सुधारों को कैसे दबाया जा रहा है. उन्होंने सवाल किया कि अगर महिलाओं के लिए थाने ही सुरक्षित नहीं होंगे तो वे शिकायत लेकर कहां जाएंगी?

प्रियंका ने एक अन्य ट्वीट में सवाल किया कि क्या उप्र सरकार ने थानों में महिलाओं की तैनाती बढ़ाने, थानों को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाने के लिए गंभीरता से सोचा है? उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने महिला घोषणा पत्र में महिला सुरक्षा के लिए कई महत्वपूर्ण बिंदु रखे थे, लेकिन….. आज ललितपुर है. प्रियंका ने कहा कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए महिला सुरक्षा और महिला हितैषी कानून व्यवस्था के लिए गंभीर कदम उठाने ही होंगे.

घटना के बाद SHO फरार

बता दें कि ललितपुर में एक 13 साल की किशोरी ने SHO पर रेप का आरोप लगाया है। किशोरी की मां ने तहरीर दी है. इसमें बताया है कि SHO तिलकधारी सरोज ने कमरे में ले जाकर लड़की के साथ दुष्कर्म किया. घटना सामने आने के बाद से SHO फरार है. वहीं, SP ने आरोपी SHO को सस्पेंड कर दिया है. DIG ने पूरे थाने को लाइन हाजिर कर दिया है.

चाइल्ड लाइन को बताई आपबीती

सोमवार को चाइल्ड लाइन की टीम को मां ने बताया कि, 22 अप्रैल को चंदन, राजभान, हरिशंकर और महेंद्र चौरसिया किशोरी को बहला-फुसलाकर भोपाल ले गए थे. वहां 3 दिनों तक उन लोगों ने उसके साथ रेप किया. आरोपी 25 अप्रैल को पाली कस्बे के थाने में छोड़कर फरार हो गए. पुलिस ने किशोरी की मौसी को बुलाकर उसे सौंप दिया. 27 अप्रैल को SHO ने बयान के लिए थाने बुलाया.

आरोप है कि उसी दिन देर शाम SHO किशोरी को अपने कमरे में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया. 30 अप्रैल को पुलिस ने उसे फिर थाने बुलाया और लड़की को चाइल्ड लाइन भेज दिया गया। जहां चाइल्ड लाइन को पीड़िता ने अपनी आपबीती सुनाई.


यह भी पढ़ें:  Loudspeaker पर घमासान : राज ठाकरे बोले- जहां भी मस्जिदों में लाउडस्पीकर लगा रहेगा, वहां हनुमान चालीसा का पाठ होगा