Chardham Yatra : जानिए क्यों केदारनाथ में यूट्यूबर और ब्लॉगर पर लग सकती है रोक, मंदिर प्रशासन जल्द लेगा फैसला

0
173

द लीडर। चारधाम यात्रा के बीच अब केदारनाथ में यूट्यूबर और ब्लॉगर पर रोक लग सकती है. मंदिर प्रशासन इनसे नाराज नजर आ रहा है और जल्द ही इस पर कुछ फैसला हो सकता है.

उत्तराखंड में जहां एक तरफ चारधाम यात्रा अपने चरम पर है तो वहीं सोशल मीडिया की दुनिया में केदारनाथ शब्द सबसे ज्यादा ट्रेंड कर रहा है.


यह भी पढ़ें: सरकार से रोजगार और सुविधा न मांगे इसलिए लोगों को धर्म में बांटा जा रहा : पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी

 

केदारनाथ में श्रद्धालुओं के अलावा यूट्यूबर और ब्लॉगर की भी भीड़ लगी हुई है जिनकी वजह से समस्याएं खड़ी हो रही हैं. वहीं, अब इन पर मंदिर समिति कड़ा रुख अपना सकती है.

टीआरपी कमाने का स्थान बना केदारनाथ

उत्तराखंड में चारों धाम में हर दिन हजारों की संख्या में भक्तों का सैलाब उमड़ रहा है. इसमें सबसे ज्यादा यात्री केदरनाथ धाम पहुंच रहे हैं. केदारनाथ धाम पर लगने वाली इस भीड़ में एक बड़ी संख्या यूट्यूब पर और ब्लॉगर की भी है जिन्हें यहां आसानी से देखा जा सकता है.

सरकारी आंकड़ों के अनुसार गंगोत्री, यमुनोत्री और बद्रीनाथ की तुलना में केदारनाथ आने वाले यात्रियों की संख्या काफी ज्यादा है. यही वजह है कि अब केदारनाथ धाम सोशल मीडिया के टॉप ट्रेंड में शामिल हो गया है.

अब यह आस्था के केंद्र के साथ-साथ टीआरपी कमाने वाले गंतव्य के रूप में उभर कर सामने आया है. आस्था के केंद्र इन धामों पर आने वाले यूट्यूब पर और ब्लॉगर से समस्याएं भी खड़ी हो रही हैं.

केदारनाथ के साथ बद्रीनाथ में भी लगेगा बैन

बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने कहा कि, धाम में हो रही समस्या को देखते हुए बद्रीनाथ के साथ-साथ केदारनाथ में यूट्यूबर और ब्लॉगर पर प्रतिबंध लगाने पर विचार किया जा रहा है.

बता दें कि, इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें साइबेरिया का एक नागरिक अपने कुत्ते केदारनाथ धाम मैं दर्शन करवा रहा है.

कुत्ता केदारनाथ धाम में नंदी के आगे मत्था टेकर रहा है जबकि पंडित भी कुत्ते का तिलक कर रहे हैं. इस पर अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं. कई लोग इस वीडियो को ट्रोल भी कर रहे हैं. अब इस पर मंदिर समिति का कहना है कि वह इस पर सख्त कदम उठाने जा रहा है.


यह भी पढ़ें:  मदरसों का अस्तित्व समाप्त हो जाना चाहिए, मुस्लिम मूल रूप से हिंदू है : सीएम हिमंत बिस्वा सरमा