Chardham Yatra: देवभूमि में श्रद्धालुओं ने तोड़ा रिकॉर्ड, अब तक 10 लाख से ज्यादा तीर्थयात्रियों ने पूरी की चारधाम यात्रा

0
276

द लीडर। उत्तराखंड में चारधाम यात्रा जोरों शोरों से चल रही है. वहीं दूर-दूर से श्रद्धालु चारों धाम के दर्शन करने आ रहे हैं. वहीं अब तक चारधाम में लाखों लोग दर्शन कर चुके हैं. 3 मई से शुरू होने वाली चारधाम यात्रा में लगातार श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ रहा है.

अबतक दस लाख से ज़्यादा तीर्थयात्री उत्तराखंड में चारधाम के दर्शन करने पहुच चुके हैं. जारी आंकड़ों के अनुसार, बदरीनाथ धाम कपाट खुलने के बाद अब तक 3.4 लाख से ज्यादा तीर्थयात्री धाम पहुंच चुके हैं.


यह भी पढ़ें: Terror Funding Case : अलगाववादी नेता यासीन मलिक को दो केस में उम्रकैद, जानें किन धाराओं में मिली सजा ?

 

इसके साथ ही केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के बाद से अब तक 3.3 लाख से अधिक तीर्थयात्री केदारनाथ धाम के दर्शन कर चुके है. इसमें हेलीकॉप्टर से पहुंचे 33,445 तीर्थयात्री भी शामिल हैं.

अब तक 10.26 लाख लोगों ने पूरी की यात्रा

गंगोत्री धाम के कपाट खुलने के बाद अब तक 2 लाख और यमुनोत्री धाम कपाट खुलने के बाद अब तक 1.4 लाख से ज्यादा तीर्थ यात्री यमुनोत्री पहुंच गये है. साथ ही 25 मई तक बदरीनाथ-केदारनाथ पहुंचने वाले कुल तीर्थयात्रियों की संख्या 6.76 लाख है.

इसके अलावा इसी दिन तक गंगोत्री-यमुनोत्री पहुंचने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या 3,49 लाख रही.‌ जिसके साथ कुल मिलाकर अब तक 10.26 लाख तीर्थयात्रियों ने यात्रा पूरी की है.

हेमकुंड साहिब के कपाट खुलने के बाद इतने रजिस्ट्रेशन

पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने जानकारी देते हुए बताया कि, बुधवार शाम सात बजे तक जो हमारा आंकड़ा है वो चारों धामों में 10 लाख 26 हजार के पार पहुंचने का आंकड़ा हैं.

इसी के साथ हमने ये देखा है कि ये अब तक का सबसे रिकॉर्ड नंबर है कि, इतने यात्री यहां पर पहुंचे हुए हैं. चारों धामों में यात्रियों की संख्या पहले के मुकाबले काफी ज्यादा है, अभी हेमकुंड साहिब के भी कपाट खुल गए हैं उसके चलते वो भी हमारे रिकॉर्ड में एड हो रही है.

मौसम साफ रहा तो बढ़ेगी यात्रियों की संख्या

माना यह भी जा रहा है कि, मौसम साफ रहा तो आने वाले दिनों में यात्रियों की संख्या में और ज्यादा इजाफा होगा, क्योंकि 23 और 24 तारीख को हुई लगातार बरसात की वजह से चार धाम यात्रा को अस्थाई तौर पर रोका गया था.

उसके बाद चार धाम यात्रा मार्ग पर यात्रियों की संख्या काफी ज्यादा पहुंच गई थी. हालांकि मौसम साफ होने के बाद अब यात्रियों के बैकलॉग को खत्म किया जा रहा है और जिन यात्रियों के पास रजिस्ट्रेशन है उनको यात्रा के दर्शन के लिए भेजा जा रहा है.


यह भी पढ़ें:  योगी सरकार 2.0 का पहला बजट : वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने पेश किया 6.15 लाख करोड़ का बजट, महिला सुरक्षा पर विशेष फोकस