दिल्ली सीमाओं की किलाबंदी क्यों करा रही सरकार, क्या किसानों से डर लगता : राहुल गांधी

0
896
Rahul Gandhi Farmers Protest

द लीडर : कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसान आंदोलन को लेकर एक बार फिर सरकार को घेरा है. उन्होंने कहा कि ”देश एक खतरनाक स्थिति से गुजर रहा है. जो किसान, सरकार से लड़ रहा, उसे आतंकवादी कहा जा रहा. क्या, आरएसएस को छोड़कर देश में बाकी सब किसान आतंकवादी हैं?” किसान आंदोलन को लेकर आ रहीं अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रियाओं को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने कहा कि इससे भारत की छवि को धक्का लगा है. बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस में राहुल ने ये कहा.

26 जनवरी को दिल्ली में किसान ‘ट्रैक्टर परेड’ से जुड़े एक सवाल पर राहुल गांधी ने कहा, ‘लाल किले में जो लोग घुसे. उसका जवाब गृह मंत्रालय को देना होगा. सरकार दिल्ली सीमाओं की किलाबंदी क्यों कर रही है. क्या किसानों से डरते हैं? क्या किसान देश के दुश्मन हैं. मैंने कहा कि किसान हिंदुस्तान की ताकत हैं. और इसको दबाना, मारना, धमकाना, सरकार का काम नहीं है. बल्कि उसे समाधान तलाशाना चाहिए. ये किसान पीछे नहीं हटेंगे. आखिर में सरकार को ही हटना होगा.’

बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ये देश के एक प्रतिशत लोगों का बजट है. एमएसएमई, किसान, मजदूर और सेनाओं के हिस्से का पैसा देश के उन्हीं 10-15 लोगों की जेब में डाल दिया गया है. निजीकरण का लाभ भी उन्हें ही मिलेगा. इससे देश की अर्थव्यवस्था में सुधार नहीं होने वाला. सरकार को चाहिए कि सप्लाई साइड के बजाय खपत साइड पर ध्यान दे.


राहुल गांधी का सरकार पर तंज, पूछा-इतने सारे तानाशाहों के नाम एम से ही क्यों शुरू होते?


 

राहुल गांधी बोले, चीन भारत के अंदर आकर हमारी जमीन कब्जा लेता है. और बजट में सरकार, चाइना को क्या संदेश देती है, कि हम सुरक्षा खर्च नहीं बढ़ाएंगे. तीन-चार हजार करोड़ रुपये ही बढ़ाए हैं. ऐसा करके चाइना को क्या संदेश दिया कि आप अंदर आ सकते हैं.

आपको जो करना है करो, हम सेना को सपोर्ट नहीं करेंगे. लद्दाखर में हमारे जो जवान हैं. उन्हें कैसा लग रहा हो कि इस संकट में सरकार पैसा नहीं दे रही. हम कहते हैं कि हमारी सेनाओं को जो भी चाहिए वो देना चाहिए. सवाल उठाया ये कौन सी देशभक्ति है. सेना लद्​दाख में खड़ी है और उन्हें पैसा नहीं दे रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here