जानें कौन है गुलशन यादव…जिसको समाजवादी पार्टी ने राजा भैया के खिलाफ चुनावी मैदान में उतारा है, क्या टूटेगा कुंडा का तिलिस्म ?

0
104

द लीडर। यूपी चुनाव को लेकर सभी पार्टियां अपने उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतार रही है. वहीं समाजवादी पार्टी ने पूर्व कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के खिलाफ समाजवादी पार्टी ने प्रत्याशी की घोषणा कर दी है. पार्टी ने प्रतापगढ़ जिले की कुंडा विधानसभा सीट से गुलशन यादव को उम्मीदवार बनाया है. कुंडा से राजा भैया 6 बार निर्दलीय चुनाव जीत चुके हैं. 2012 और 2017 में सपा ने कुंडा से कोई उम्मीदवार नहीं उतारा था.

राजाभैया का गढ़ है कुंडा और बाबागंज

रघुराज प्रताप सिंह के खिलाफ पंद्रह साल तक सपा नेतृत्व ने विधानसभा में प्रत्याशी नहीं उतारे थे. राजा भैया 1993 से कुंडा विधानसभा सीट से लगातार निर्दलीय विधायक हैं, और हाल ही में उन्होंने एक पार्टी का गठन किया है. कुंडा व बाबागंज विधानसभा को राजाभैया का गढ़ कहा जाता है. इन दोनों विधानसभाओं पर लंबे समय से उनका प्रभाव देखा जा सकता है.

जानें कौन है गुलशन यादव?

प्रतापगढ़ के कुंडा के रहने वाले गुलशन यादव को नाम और पहचान बाहुबली राजा भैया से ही मिली हुई है. राजा भैया के बेहद करीबियों में गिने जाने वाले और अब सपा से राजा भैया के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले गुलशन कुंडा टाउन एरिया के चेयरमैन रह चुके हैं.

गुलशन यादव पर एक दर्जन से ज्यादा आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं और प्रतापगढ में हुए डिप्टी एसपी जियाऊल हक हत्याकांड में भी गुलशन का नाम सामने आया था. गुलशन यादव के साथ कुंडा के विधायक पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया भी नामजद थे. प्रतापगढ़ में हुए सीओ जियाउल हक हत्याकांड में भी गुलशन का नाम सामने आया था.

गुलशन यादव वही शख्स हैं जिनके हथियार बंद लोगों ने एक समय में पुलिस सुरक्षा तोड़कर भगाने का प्रयास किया था जब उन्हें पेशी के लिए अदालत ले जाया जा रहा था. वहीं, गुलशन यादव को अदालत से बरी किए जाने पर सैकड़ों की संख्या में समर्थक सड़क पर उतर आए और ‘जेल के ताले टूट गए गुलशन भइया छूट गए’ जैसे नारों से आसमान तक गूंज उठा था.


यह भी पढ़ें: लैटिन अमेरिका में बनेगी इस्लामिक यूनिवर्सिटी, जिसमें नहीं होगा अरबी मिजाज

 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने 39 और उम्मीदवारों की लिस्ट जारी 

  • मरहरा से अमित गौरव सपा प्रत्याशी घोषित
  • बीसलपुर से दिव्या गंगवार सपा प्रत्याशी
  • लहरपुर से अनिल वर्मा को सपा का टिकट
  • मिश्रिख से मनोज राजवंशी को सपा का टिकट
  • कस्ता से सुनील कुमार लाला सपा प्रत्याशी
  • सांडी से उषा वर्मा को सपा का टिकट मिला
  • सलोन से जगदीश प्रसाद सपा प्रत्याशी घोषित
  • जगदीशपुर से रचना कोरी
  • गौरीगंज से राकेश प्रताप
  • अमेठी से महराजी प्रजापति को सपा का टिकट
  • सुल्तानपुर से अनूप सांडा को सपा का टिकट
  • सुल्तानपुर सदर से अरुण वर्मा सपा प्रत्याशी
  • लम्भुआ से संतोष पांडेय को सपा का टिकट
  • कादीपुर से भगेलू राम को सपा का टिकट
  • इटावा से सर्वेश शाक्य
  • बिल्हौर से रचना सिंह
  • गोविंदनगर से सम्राट विकास को सपा का टिकट
  • किदवई नगर से ममता तिवारी सपा प्रत्याशी
  • हमीरपुर से रामप्रकाश प्रजापति सपा प्रत्याशी
  • खागा से राम तीरथ परमहंश सपा प्रत्याशी
  • कुंडा से गुलशन यादव को सपा का टिकट
  • पट्टी से राम सिंह पटेल को सपा का टिकट
  • रानीगंज से विनोद दुबे को सपा का टिकट
  • मंझनपुर से इंद्रजीत सरोज सपा प्रत्याशी
  • सोरांव से गीता पासी सपा प्रत्याशी घोषित
  • हंडिया से हाकिम चंद्र बिन्द सपा प्रत्याशी
  • मेजा से संदीप पटेल को सपा का टिकट
  • करछना से उज्ज्वल रमण सिंह सपा प्रत्याशी
  • इलाहाबाद उत्तरी से संदीप यादव को टिकट
  • बारा से अजय मुन्ना को सपा का टिकट
  • कोरांव से रामदेव निडर सपा प्रत्याशी घोषित
  • मिल्कीपुर से अवधेश प्रसाद सपा प्रत्याशी
  • अयोध्या से पवन पांडेय सपा प्रत्याशी बने
  • नानपारा से माधुरी वर्मा को सपा का टिकट
  • बहराइच से यासिर शाह को सपा का टिकट
  • पयागपुर से मुकेश श्रीवास्तव सपा प्रत्याशी
  • गोंडा से सूरज सिंह को सपा का टिकट मिला
  • कटरा बाजार से बैजनाथ दुबे सपा प्रत्याशी
  • कर्नलगंज से योगेश प्रताप सिंह सपा प्रत्याशी

अखिलेश सरकार में मंत्री रहे हैं तेज नारायण पांडेय

अयोध्या से सपा ने पवन पांडेय को मैदान में उतारा है. तेज नारायण पांडेय उर्फ पवन पांडेय अखिलेश यादव की सरकार में 2012 से लेकर 2017 तक मंत्री भी रह चुके हैं. इस दौरान वे अयोध्या विधानसभा क्षेत्र से विधायक भी रह चुके हैं. 2017 में भाजपा के वेदप्रकाश गुप्ता ने पांडेय को अयोध्या सीट से ही चुनाव हराया था.

पूर्व मंत्री यासर शाह बहराइच से उम्मीदवार

भाजपा छोड़कर सपा में शामिल हुईं विधायक माधुरी वर्मा को भी सपा ने इस बार टिकट दिया है. उन्हें बहराइच के नानपारा से मैदान में उतारा गया है. यूपी के पूर्व मंत्री यासर शाह को सपा ने बहराइच से उम्मीदवार बनाया है. यासर शाह वर्तमान में बहराइच के मटेरा विधानसभा क्षेत्र से सपा विधायक हैं.पूर्व विधायक मुकेश श्रीवास्तव को बहराइच के पयागपुर विधानसभा क्षेत्र से टिकट मिला है.


यह भी पढ़ें:  UP Election: यूपी में अकेले चुनाव लड़ रही नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल (यूनाइटेड), 20 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी

 

सपा प्रयागराज जिले के करछना से अपने मौजूदा विधायक उज्ज्वल रमन सिंह (दिग्गज नेता रेवती रमन सिंह के बेटे) को फिर प्रत्याशी बनाया है. वहीं, बसपा छोड़ने वाले हकीम चंद बिंद को प्रयागराज के हंडिया से टिकट दिया गया है.

मुस्लिम और यादव दावेदारों पर भरोसा

महज एक दिन पहले ही सपा ने 159 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की थी. इसमें अखिलेश यादव समेत कई बड़े नेताओं के नाम थे. समाजवादी पार्टी ने 159 उम्मीदवारों की लिस्ट में मुस्लिम और यादव दावेदारों पर भरोसा जताया है. इस सूची में सपा का एम और वाई फैक्टर भी नजर आ रहा है. लिस्ट के हिसाब से सपा ने 30 मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया है. साथ ही 12 यादव को उम्मीदवार बनाया गया है. सपा ने 9 महिला उम्मीदवारों को भी टिकट दिया है.

यूपी में 7 चरणों में होंगे मतदान

उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में मतदान होंगे. 10 फरवरी को पहले चरण, 14 फरवरी को दूसरे चरण, 20 फरवरी को तीसरे चरण, 23 फरवरी को चौथे चरण, 27 फरवरी को पांचवें चरण, तीन मार्च को छठे चरण और सात मार्च को सातवें चरण का मतदान होगा. वहीं, वोटों क गिनती 10 मार्च को होगी.


यह भी पढ़ें:  आरपीएन सिंह के पार्टी छोड़ने पर कांग्रेस का बयान : कायर लोग इस लड़ाई को नहीं लड़ सकते

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here