नितीश कुमार असली शराब माफिया – तेजस्वी का तंज

0
142

लखनऊ | बिहार में शराबबंदी के ऊपर राजनीति तेज हो गई है. जहाँ एक और मुख्य मंत्री नीतीश कुमार शराबबंदी को सफल बनाने के लिए प्रशासन को हर दिन शराब माफिया के ख़िलाफ़ कारवाई तेज करने के निर्देश देते हैं, वहीं दूसरी ओर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को ही असल शराब माफिया कह डाला.

तेजस्वी आज एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. इसी दौरान उन्होंने मुख्य मंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाया कि उन्होंने मंत्री रामसूरत राय से अब तक न तो इस्तीफा लिया है और न ही उसे बर्खास्त किया है, जबकि उनके भाई की ज़मीन पर चल रहे एक स्कूल से पिछले साल बड़ी मात्रा में शराब ज़ब्त हुई थी. तेजस्वी ने कहा कि राज्य में शराब माफिया पर कार्रवाई की बड़ी-बड़ी बातें की जाती हैं लेकिन असलियत में ऐसा नहीं होता.

यह भी पढ़े – ममता की चोट पर वोट – जानिए अब तक की पूरी घटना

राजद नेता ने कहा कि मंत्री रामसूरत राय के स्कूल से शराब मिली है। इस मामले में रामसूरत राय के भाई के खिलाफ एफआईआर की कॉपी भी है। जिस स्कूल से शराब बरामद हुई है उसके व्यवस्थापक रामसूरत के भाई हंसराज हैं, लेकिन सबूत होने के बावजूद इन दोनों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। उन्होंने कहा कि मंत्री के स्कूल का नाम ज्ञान विद्या मंदिर है लेकिन वहां किस तरह का ज्ञान दिया जा रहा है ये समझ से परे है।

तेजस्वी ने नीतीश कुमार से मंत्री रामसूरत को तुरंत पद से हटाने की मांग की। उन्होंने पूछा कि आखिर मंत्री पर कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही है। नीतीश कुमार देश के सबसे बेबस और थके हुए सीएम हैं। देश का दूसरा कोई सीएम नीतीश की तरह कमजोर नहीं है।

यह भी पढ़े – ममता की चोट पर वोट – जानिए अब तक की पूरी घटना

इस दौरान उन्होंने यहां तक कह दिया कि बिहार के असली शराब माफिया तो खुद सीएम नीतीश हैं। उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस ने भी माना है कि राज्य से 9 लाख लीटर शराब जब्त हुई है। नेता प्रथिपक्ष ने कहा कि बिहार में आज शराब सबसे ज्यादा मुनाफे वाला कारोबार हो गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here