इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में बदले से सात विकेट दूर टीम इंडिया

0
380
Team India Test Series Against England

द लीडर. नजारा सीरीज के पहले टेस्ट मैच जैसा ही है. अंतर महज यह कि तब टीम इंडिया बैकफुट पर थी और अब दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड. जिस तरह टीम इंडिया के लिए पहले टेस्ट में 420 रन की रिकॉर्ड लक्ष्य था, वैसे ही अब इंग्लैंड को 482 रन बनाने हैं. यानी इंडिया से 62 रन ज्यादा. लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम इंडिया 227 रन से मैच हार गई थी.

अब टेस्ट में विशाल रन के अंतर से जीतने का रिकॉर्ड इंग्लैंड के निशाने पर है लेकिन उसकी हालत पतली है. दूसरे टेस्ट में अभी दो दिन का खेल बचा है. इंग्लैंड के तीन विकेट 53 रन पर ही गिर चुके हैं. अभी उसे 429 रन और बनाने हैं. इंडिया को सात विकेट चटखाने हैं.

हार से कम अगर ड्रा भी कराना है तो बचे हुए दो दिन में कम से कम 180 ओवर गेंदबाजी का सामना करना पड़ेगा. रनों के विशाल लक्ष्य को देखते हुए कह सकते हैं कि टीम इंडिया बदला पूरा करने के कगार पर है.

इसे भी पढ़ें : सीरिज के दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड से बदले की तरफ बढ़ रही टीम इंडिया

चैन्नई के एमए चिदंबरम मैदान पर खेल जा रहे दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन धाकड़ स्पिनर रविचंद्रन अशि्वन की धमाकेदार पारी देखने को मिली. बल्लेबाजी के लिए मुशि्कल पिच पर अशि्वन ने शानदार शतक जड़ा. यह उनके करियर का पांचवा शतक है.

आर अश्विन

इसी टेस्ट में वह पांच विकेट भी चटका चुके हैं. जब कप्तान विराट कोहली 62 रन बनाकर पवेलियन लौटे तो अश्विन ने मोर्चा संभाल लिया. 106 रन का पारी खेली. उनके इस अद्भुत प्रदर्शन की बदौलत टीम इंडिया 286 रन बनाने में कामयाब हो गई. इंग्लैंड के लिए ऐसा लक्ष्य निर्धारित हो गया, जो अब तक हो चुके खेल को देखकर मुश्किल दिख रहा है.

तीसरे दिन का खेल खत्म होने से पहले स्पिनर अक्षर पटेल 15 रन देकर दो विकेट और रविचंद्रन अश्विन 28 रन देकर एक विकेट ले चुके हैं. डोमिनिक सिब्ले को अक्षर ने तीन रन पर पगबाधा आउट किया. अश्विन ने रोरी बर्न्‍स को विराट के हाथों कैच कराया. बर्न्‍स ने चार चौकों की मदद से 25 रन बनाए. इसके बाद अक्षर ने नाइट वॉचमैन बतौर क्रीज पर उतरे जैक लीच आउट करके इंग्लैंड को तीसरा झटका दिया. उनका कैच रोहित शर्मा ने पकड़ा. वह पहली ही गेंद पर खाता खोले बिना आउट हुए.


उत्तराखंड : क्रिकेटर वसीम जाफर मामले में राहुल गांधी के बाद मुख्यमंत्री एक्टिव, होगी जांच


 

टीम इंडिया चौथे दिन मंगलवार को मैच जल्द खत्म करके इंग्लैंड से हिसाब चुकता करना चाहेगी. इंग्लैंड के प्रदर्शन का काफी हद तक दारोमदार उसके कप्तान जो रूट पर रहेगा, जो दो रन बनाकर खेल रहे हैं.

आंकड़ों की बात करें तो टेस्ट में सबसे बड़ा लक्ष्य चेज करने का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के नाम है, जो उसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2003 में 418 रन बनाकर हासिल किया था.

टीम इंड‍िया ने पनी ही जमीन पर अब तक सबसे बड़ा 387 रन का स्कोर दिसंबर 2008 में चेज किया था. तब उसने इंग्लैंड को चेन्नई के ही मैदान पर 6 विकेट से हराया था.

टीम इंडिया मैच जीतती है तो वह वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल खेलने की दौड़ में बनी रहेगी. दूसरे के बाद तीसरे टेस्ट में भी इंग्लैंड को हराना होगा.


वसीम जाफर पर सांप्रदायिक दाग लगाकर उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन को आखिर क्या हासिल हुआ


 

अगर टीम इंडिया हारती है, तब वह वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप से बाहर हो जाएगी, जो जून माह में लार्डस के मैदान पर खेला जाना है. इसके लिए एक टीम न्यूजीलैंड पहले ही क्वालीफाइ कर चुकी है. दूसरी टीम का चयन होना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here