शुभमन गिल का चार मैचों में तीसरा शतक और टीम इंडिया बन गई वनडे में नंबरवन

0
44

The Leader. टीम इंडिया ने टी-20 के बाद वनडे रैकिंग में भी नंबरवन का ताज हासिल कर लिया. तीसरे यानी टेस्ट मैच के फार्मेट में दूसरे नंबर पर है. जिस अंदाज़ में टीम के खिलाड़ी परफॉर्म कर रहे हैं, वो भारतीय क्रिकेट का स्वर्णिम दौर है. पहले श्रीलंका को और अब न्यूज़ीलैंड को घरेलू श्रंखला में रौंद दिया. इंदौर के होलकर मैदान पर तीसरा वनडे शानदार तरीक़े से जीता है. जीत के हीरो रहे शुभमन गिल. उनके बल्ले से एक और शतक निकला. यह पिछले चार मैच में उनका तीसरा शतक है. उन्हें अपने इस प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज़ चुना गया.


हसीन जहां से अलग होने की बड़ी क़ीमत चुकाएंगे तेज़ गेंदबाज़ मुहम्मद शमी


न्यूज़ीलैंड टीम एक बार फिर निर्धारित ओवर भी नहीं खेल सकी. पहले वनडे में संघर्ष देखने को मिला था लेकिन दूसरे में 108 रन पर ही सिमट गई और अब तीसरे वनडे में लक्ष्य की पीछा करते हुए न्यूज़ीलैंड के सभी बल्लेबाज़ टीम का स्कोर 295 रन तक ही ले जा सके. भारत ने 8.04 ओवर शेष रहते ही 90 रन से जीत दर्ज कर ली. इस जीत की नींव भारतीय ओपनरों कप्तान रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने शानदार बल्लेबाज़ी से रखी. दोनों के बीच 212 रन की पार्टनरशिप हुई. रोहित ने 85 गेंद में 101 और शुभमन ने 78 गेंदों का सामना करके 112 रन का पारी खेली. रोहित के बल्ले से वनडे में 3 साल बाद शतक आया, जबकि गिल का 4 मैच में तीसरा शतक था.


सिराज के बाद अब मुहम्मद शमी की घातक गेंदबाज़ी से न्यूज़ीलैंड की करारी हार


तब जबकि भारत ने दोनों वनडे में शानदार गेंदबाज़ी करने वाले मुहम्मद सिराज और मुहम्मद शमी को आराम देकर उमरान मलिक और युजवेंद्र चहल को मौक़ा दिया था, फिर भी न्यूज़ीलैंड 386 रन के लक्ष्य को चेज़ नहीं कर सकी. हालांकि ओपनर ड्वेन कॉन्वे ने 100 गेंद में 138 रन ठोंककर भारत को मुश्किल में ज़रूर डाला लेकिन शर्दुल ठाकुर और कुलदीप यादव ने शानदार गेंदबाज़ी करके न्यूज़ीलैंड को बैकफुट पर ला दिया. भारत ने न्यूज़ीलैंड पर आसानी के साथ तीसरी सीरीज़ भी क्लीन स्वीप किया. सबसे बड़ी बात यह कि इस जीत के साथ टीम इंडिया वनडे की सरताज हो गई. दूसरे से पहले नंबर पर आ गई. न्यूज़ीलैंड से भारत दौरे पर नंबरवन का ताज छिन गया. वो पाकिस्तान में पाकिस्तान दो 2-1 से हराकर भारत आई थी. छह ओवर में 45 रन खर्च करके 3 विकेट लेने वाले शर्दुल ठाकुर को मैन ऑफ द मैच  पुरस्कार के लिए चुना गया.


यह भी पढ़ें-

धड़कनें तेज़ कर देने वाले मैच में न्यूज़ीलैंड के जबड़ों से जीत छीन लाए मुहम्मद सिराज