सऊदी अरब जल्द बहाल करेगा कतर दूतावास

0
251

सऊदी अरब ने आने वाले दिनों में दोहा में अपने दूतावास को फिर से खोलने की उम्मीद जाहिर की है। विदेश मंत्री फैसल बिन फरहान ने कहा है कि पिछले हफ्ते समझौते के बाद, चार अरब देशों और कतर के बीच चल रहा तीन साल पुराने विवाद को समाप्त कर दिया।

दूतावास फिर से खोलने के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्री ने राजधानी रियाद में पत्रकारों से कहा कि यह मुद्दा सिर्फ रसद का था।

“अपने दूतावास को आवश्यक प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद दोहा में फिर से खोल दिया जाएगा,” उन्होंने जॉर्डन के समकक्ष अयमान सफादी के साथ एक पत्रकार सम्मेलन में ये बात कही।

राज्य के शीर्ष राजनयिक ने कहा कि सऊदी अरब “कतर के साथ पूर्ण राजनयिक संबंध बहाल करेगा”।

ये भी पढ़ें – क्या जीसीसी शिखर सम्मेलन खाड़ी देशों की अर्थव्यवस्था को पटरी पर ला सकेगा

सऊदी अरब और उसके सहयोगियों – संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), बहरीन और मिस्र ने जून 2017 में कतर पर एक राजनयिक, व्यापार और यात्रा प्रतिबंध लगाया था। उन्होंने ईरान के साथ नजदीकी और “आतंकवाद” का समर्थन का आरोप लगाकर हवाई क्षेत्र को बंद कर दिया था।

बाद में प्रतिबंध लगाने वाले देशों ने नाकाबंदी को समाप्त करने के लिए 13 मांगों की एक सूची जारी की। हालांकि, दोहा ने आरोपों और मांगों का जोरदार खंडन कर कहा कि नाकाबंदी से कतर की संप्रभुता को कमजोर करना था।

खाड़ी सहयोग परिषद के तीन सदस्यों – सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और बहरीन ने संयुक्त राज्य अमेरिका के निवर्तमान ट्रंप प्रशासन की मध्यस्थता और जीसीसी सदस्य कुवैत की कोशिश के बाद अल-उला के सऊदी के रेगिस्तानी शहर में पिछले दिनों जीसीसी शिखर सम्मेलन किया, जहां कतर पर प्रतिबंध हटाने पर सहमति पर मुहर लगी।

इसके बाद इन देशों ने एक दूसरे के लिए अपने हवाई रास्ते खोल दिए और कुछ उड़ानें फिर से शुरू हो गई हैं। सऊदी अरब और कतर ने पिछले सप्ताह भूमि सीमा को फिर से खोल दिया।

ये भी पढ़ें – पीओके में ‘रोटी की आग’, प्रदर्शनकारी कश्मीरियों पर फायरिंग और लाठीचार्ज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here