चला गया संतूर का ‘सरताज’ : शास्त्रीय संगीत के दिग्गज पंडित शिवकुमार शर्मा का निधन, संगीत जगत में शोक की लहर

0
132

द लीडर। शास्त्रीय संगीत के दिग्गज पंडित शिवकुमार शर्मा का निधन हो गया है. जिसे संगीत जगत में शोक की लहर दौड़ पड़ी है. हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के महानतम दिग्गजों में से एक पंडित शिव कुमार शर्मा का निधन हो गया. इसकी जानकारी अमिताभ मट्टू ने ट्वीट कर दी. उन्होंने कहा, गहरी व्यक्तिगत प्रेरणा का स्रोत, मैं विहीन हूं, शांति!

पंडित शिवकुमार शर्मा 84 साल के थे. उनके निधन की खबर से उनके चाहने वालों को काफी झटका लगा है. लोगों का कहना है कि उनका जाना भारतीय शास्त्रीय संगीत के लिए एक बड़ी क्षति है.


यह भी पढ़ें: साल 2024 से पहले देश में पूरा किया जाएगा डिजिटल जनगणना का काम, 25 साल का खाका होगा तैयार : गृहमंत्री अमित शाह

 

फिल्मी जगत में भी पंडित शिव कुमार शर्मा का अहम योगदान रहा. बॉलीवुड में ‘शिव-हरी’ (शिव कुमार शर्मा और हरि प्रसाद चौरसिया) की जोड़ी ने कई हिट गानों में संगीत दिया. Chandni फिल्म का गाना ‘मेरे हाथों में नौ-नौ चूड़ियां’ जो कि श्रीदेवी पर फिल्माया गया था उसके लिए संगीत इस हिट जोड़ी ने ही दिया था.

15 मई को होने वाला था कॉन्सर्ट

सबसे दुख की बात ये है कि, शिव कुमार शर्मा जी का 15 मई को इवेंट होने वाला था. इस खास पल का हिस्सा बनने के लिए कई लोग इंतजार कर रहे थे. इस इवेंट में शिव कुमार शर्मा जी हरि प्रसाद चौरसिया के साथ गाने वाले थे. लेकिन अफसोस इवेंट से कुछ दिन पहले ही शिव कुमार शर्मा ने इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया.

दुर्गा जसराज ने जताया दुख

प्रोड्यूसर और एक्ट्रेस दुर्गा जसराज ने इस क्षति पर दुख जताते हुए कहा है कि प्रकृति का संगीत खामोश हो गया है. बापूजी पंडित जसराज जी के बाद अब शिव चाचाजी का अचानक जाना मेरे लिए दोहरी और सब कुछ चकनाचूर कर देने वाली घड़ी है.

साहित्यकार गजलकार आलोक श्रीवास्तव ने इस दुख के मौके पर कहा, संतूर सम्राट पंडित शिव कुमार शर्मा जी नहीं रहे. हमारी महान भारतीय शास्त्रीय संगीत परंपरा का एक सुरीला सितारा टूट गया. देवाधिदेव महादेव से उनकी आत्मा की शांति हेतु विनम्र प्रार्थना.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताया दुख

पंडित शिवकुमार शर्मा के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, मुझे याद है उनसे की गई मुलाकात. उनका संगीत आने वाली पीड़ियों में जिंदा रहेगा. मोदी ने उनके चाहने वालों और परिवार के प्रति संवेदनाएं जतायी हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने व्यक्त किया दुख

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रख्यात संतूर वादक पंडित शिवकुमार शर्मा जी के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है. अपने शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा है कि सरल स्वभाव और आत्मा को सम्मोहित करने वाले संगीत कला के पारंगत पंडित शिवकुमार जी मां सरस्वती के अनन्य साधक थे.

उन्होंने कहा कि, कला-संगीत के क्षेत्र में उनके विशिष्ट योगदान के लिए भारत सरकार ने उन्हें पद्म विभूषण से अलंकृत किया था. आज उनके निधन से संगीत जगत में एक विराट शून्य उत्पन्न हुआ है. शोकाकुल परिजनों और शिष्यों के प्रति शोक संवेदना प्रकट करते मुख्यमंत्री ने शिवकुमार जी की आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है.

संतूर को म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट के तौर पर पहचान दिलाई

पंडित शिवकुमार शर्मा ने संतूर को एक नये म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट के तौर पर पहचान दिलाई थी. बताया जाता है कि, संतूर को केवल देश में ही नहीं बल्कि दुनियाभर में इसे महूर किया. पंडित शिवकुमार ने कई फिल्मों में पंडित हरि प्रसाद चौरसिया के साथ मिलकर संगीत भी दिया था. इन दोनों की जोड़ी को शिव हरी के रूप में देखा जाता था. फिल्में जैसी सिलसिला, लम्हे और चांदनी में अपने संगीत से चार चांद लगा दिए थे.


यह भी पढ़ें:  ओडिशा के समुद्री तटों से 10 मई को टकरा सकता है ‘असानी’ तूफान : बिहार-झारखंड के कुछ जिलों में भी होगी बारिश