बेगूसराय में आरोपियों के घर पुलिस ने चिपकाया इश्तेहार, कहा- 24 घंटे में सरेंडर करो नहीं तो चलेगा बुलडोजर

0
416

द लीडर। उत्तर प्रदेश में भाजपा ने एक बार फिर प्रचंड जीत के साथ सत्‍ता में वापसी की. लेकिन इस बार सीएम योगी के साथ उनका बुलडोजर देश दुनिया में छाया रहा. वहीं अब ये बुलडोजर देश के अलग अलग राज्यों में अपराधियों के घरों पर चलाए जा रहे हैं.

बिहार के बेगूसराय में पुलिस पत्रकार सुभाष कुमार हत्याकांड में तीन आरोपियों के यहां बुलडोजर चलाने की तैयारी में है. 24 घंटे का वक्त दिया है कि, वे तीनों सरेंडर नहीं करते हैं तो घर पर बुलडोजर चला दिया जाएगा.

पुलिस ने कई जगहों पर की छापेमारी

बीते गुरुवार की शाम पुलिस ने इश्तेहार चिपकाया है. अभी तक सभी आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी. न्यायालय के आदेश पर गुरुवार को पुलिस ने डॉग स्क्वायड के सहारे विभिन्न जगहों पर छापेमारी की.


यह भी पढ़ें: बरेली : भोजीपुरा विधायक शहज़िल इस्लाम का जब विधानसभा में मुख्यमंत्री से हुआ सामना

 

आरोपी रोशन कुमार, पीयूष कुमार और नितेश कुमार के घर पुलिस ने इश्तेहार चिपकाया. अल्टीमेटम देते हुए कहा कि 24 घंटे का अगर सभी आरोपी सरेंडर नहीं करते हैं तो वैसी स्थिति में कुर्की जब्ती के साथ-साथ उनका घर भी तोड़ा जाएगा. इधर, बेगूसराय में सुभाष कुमार की हत्या के विरोध में पत्रकारों और विभिन्न राजनीतिक दल के लोगों के द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा है.

पत्रकार सुभाष कुमार की गोली मारकर हत्या

बता दें कि, 20 मई को परिहारा थाना क्षेत्र के सांखो गांव में अपराधियों ने पत्रकार सुभाष कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी थी. इस मामले में अब तक बाबुल कुमार नाम के अपराधी ने न्यायालय में सरेंडर किया है.

वहीं सांखो गांव के नितेश कुमार, खगड़िया जिले के अलौली थाना क्षेत्र के रानी सकरपुरा निवासी नामजद आरोपी रौशन कुमार और पीयूष कुमार फरार हैं. सुभाष एक यूट्यूब चैनल के लिए काम करता था.

20 मई को वह गांव के ही एक आयोजन से भोज खाकर अपने परिवार के साथ वापस लौट रहा था. इसी क्रम में अपराधियों ने अंधाधुंध गोली चला दी जिससे घटनास्थल पर ही सुभाष की मौत हो गई थी.


यह भी पढ़ें:  कर्नाटक के मंगलुरु विश्वविद्यालय ने हिजाब पर लगाया पूर्ण प्रतिबंध, डिप्टी कमीश्नर के आफिस पहुंची मुस्लिम छात्राएं