रामपुर : जौहर यूनिवर्सिटी में छापा, ज़मीन में दफ़्न कूड़ा गाड़ी बरामद और पूर्व सीओ का बेटा गिरफ़्तार

0
32
Jauhar University Rampur News
रामपुर में कार्यवाही के दौरान तैनात पुलिस बल.

द लीडर : समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर के शहर विधायक आज़म ख़ान की मुश्किलें बढ़ गई हैं. उनकी जौहर यूनिवर्सिटी से एक कूड़ा गाड़ी बरामद हुई है, जो रामपुर नगर पालिका की बताई जा रही है. पुलिस ने इस मामले में मुक़दमा दर्ज कर लिया है. लेकिन ये केस सिर्फ़ इतना भर नहीं है. बल्कि इस ताज़ा घटनाक्रम में मनी लांड्रिंग को लेकर भी चर्चा है. (Jauhar University Rampur News)

आज़म ख़ान के बेटे अब्दुल्ला आज़म के दो दोस्त, सालिम और अनवार की गिरफ़्तारी के बाद ये नया खुलासा सामने आ रहा है. दोनों जुए के एक मामले में आरोपी थे. उसी मामले में इनकी गिरफ़्तारी हुई. पूछताछ में कुछ तथ्य सामने आने के बाद प्रवर्तन निदेशालय-ईडी की टीम रामपुर पहुंची. ईडी ने सालिम और अनवार से अब्दुल्ला और आज़म परिवार को लेकर पूछताछ की.

सालिम और अनवार की निशानदेही पर सोमवार को रामपुर पुलिस ने जौहर यूनिवर्सिटी में एक बार फिर छापा मारा. यहां कैंपस में बताए गए स्थान पर जेसीबी से खोदाई की, तो वहां से एक कूड़ा गाड़ी बरामद की गई है. पुलिस ने इसका वीडियो भी जारी किया है. (Jauhar University Rampur News)


 

इसे भी पढ़ें-लीसेस्टर में क्रिकेट प्रशंसक दो समूहों में सांप्रदायिक टकराव से सन्न रह गया ब्रिटेन


 

रामपुर के एडिशनल एसपी संसार सिंह ने अपने बयान में कहा कि रामपुर नगर पालिका से एक गाड़ी ग़ायब हुई थी. इस मामले में बाक़र अली ने कोतवाली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. यूनिवर्सिटी में खोदाई के दौरान वो गाड़ी बरामद हो गई है.

एडिशनल एसपी ने कहा कि, दोनों आरोपियों को कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा. और इन्हें रिमांड पर लेने की मांग करेंगे. क्योंकि इनसे पूछताछ में कई चीज़ें सामने आई हैं और अभी बहुत सारे तथ्य सामने आ सकते हैं. उन्होंने कहा कि कुछ चीज़ें काफ़ी जल्द सामने आ जाएंगी. (Jauhar University Rampur News)

पुलिस की गिरफ़्त में आए सालिम और अनवार अब्दुल्ला आज़म के दोस्त बताए जा रहे हैं, तो ज़ाहिर है कि इसमें आज़म परिवार की मुश्किलें बढ़ गई हैं. माना जा रहा है कि इस कार्यवाही में अब्दुल्ला आज़म पर भी शिकंसा कस सकता है. और उनसे भी पूछताछ हो सकती है.

उधर आज़म ख़ान की पत्नी और पूर्व सांसद डॉ. तज़ीन फ़ातिमा ने पुलिस-प्रशासन की इस कार्यवाही पर सवाल उठाए हैं. डॉ. फ़ातिमा ने कहा कि ”ये यूनिवर्सिटी को बर्बाद करने की साज़िश है. एडमिशन के वक़्त की सारी कार्यवाही होती है, ताकि बच्चे डर जाएं. देखिए इस मामले में डॉ. तज़ीन फ़ातिमा ने क्या कहा. (Jauhar University Rampur News)

बता दें कि अब्दुल्ला आज़म के दोस्तों की गिरफ़्तारी सपा मुखिया अखिलेश यादव के साथ उनके फोटो अख़बारों में छपने और सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद की गई है. यह फोटो आज़म ख़ान से दिल्ली में मुलाक़ात का है, जिसमें अब्दुल्ला के साथ उनके दोनों दोस्त भी हैं. उन पर रामपुर में जुए का मुक़दमा दो माह पहले ही दर्ज हो चुका था. गिरफ़्तारी अब की गई है. उनसे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की एक टीम ने आकर की, इसलिए यह मामला बड़ा हो गया है.

पूर्व सांसद डॉ. तज़ीन फ़ातिमा ने कहा कि ”पुलिस ने इस मामले में उप-कुलपति से कोई अनुमति नहीं ली है. ख़ुद ही जेसीबी लाकर खोदाई की. इससे पहले भी इसी तरह से काफ़ी सामान उठाकर ले गए थे. इस बार भी वैसा ही हुआ है. मैं ख़ुद भी यहीं मौजूद थी. हमारे वाइस चांसलर ने मिलने की कोशिश भी की थी, लेकिन मुलाक़ात नहीं की.” (Jauhar University Rampur News)


(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)