‘कांग्रेस और डीएमके के पास कुछ भी सकारात्मक नहीं है’ – तमिलनाडु में मोदी

0
192

चेन्नई | देश के चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनावों को लेकर प्रचार का दौर चरम पर है। इसी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मंगलवार को केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में चुनावी रैलियों को संबोधित करने का कार्यक्रम है। इस अभियान के दौरान उन्होंने केरल के पलक्कड़ में पहली रैली को संबोधित किया। यहां, भाजपा के उम्मीदवार मेट्रोमैन ई श्रीधरन ने पीएम मोदी का स्वागत किया। यहां से प्रधानमंत्री मोदी तमिलनाडु के धारापुरम पहुंचे। मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी भी उनके साथ मौजूद थे।

प्रधानमंत्री ने यहां जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आने वाले कुछ दिनों में तमिलनाडु नई विधानसभा के चयन के लिए मतदान करेगा। एनडीए परिवार राज्य के लोगों की सेवा करने के लिए आपसे आशीर्वाद मांगता है। हम बहुमुखी विकास का एजेंडा लेकर आपसे वोट मांग रहे हैं जो एमजीआर और अम्मा जयललिता के आदर्शों पर आधारित है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि एक ओर एनडीए का विकास आधारित एजेंडा है तो दूसरी ओर कांग्रेस और डीएमके अपना काम बनाने का एजेंडा लेकर चल रही हैं।

यह भी पढ़े – यूपी कांग्रेस कमेटी में विस्तार, प्रदेश में अब आठ उपाध्यक्ष

‘कांग्रेस और डीएमके के पास कुछ भी सकारात्मक नहीं है’
मोदी ने कहा कांग्रेस और डीएमके के नेताओं के भाषणों में कुछ भी सकारात्मक नहीं सुनने को मिलता है। वह अपने काम या विजन के बारे में बहुत ही कम बात करते हैं। वह केवल दूसरों का अपमान करने का और झूठ फैलाने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि इन दिनों कांग्रेस और डीएमके ने अपनी बेकार हो चुकी 2-जी मिसाइल लॉन्च की है। इस 2-जी मिसाइल का एक लक्ष्य है और वह हैं तमिलनाडु की महिलाएं। कुछ दिन पहले यह मिसाइल तमिलनाडु की नारी शक्ति पर हमला करने के लिए यूपीए ने लॉन्च की थी।

‘महिलाओं का अपमान करना कांग्रेस-डीएमके की संस्कृति’
मोदी ने कहा, मैं उस जमीन पर हूं जहां के बेटे और बेटियों ने अपने आदर्शों से कभी समझौता नहीं किया और अन्याय के खिलाफ हमेशा लड़े। यहां से मैं कांग्रेस और डीएमको को बताना चाहता हूं कि अपने पार्टी नेताओं को नियंत्रण में रखें।प्रधानमंत्री ने डीएमके और कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि महिलाओं का अपमान करना दोनों दलों की संस्कृति है। कुछ दिन पहले डीएमके के एमएलए प्रत्याशी डिंडिगुल लियोनी ने महिलाओं पर बेहद शर्मनाक टिप्पणी की थी और डीएमके ने उन्हें रोकने के लिए कुछ भी नहीं किया।

यह भी पढ़े – मस्जिद अल-हरम में दुनिया का सबसे बड़ा कूलिंग स्टेशन तैयार

केरल में अब FAST विकास का समय
प्रधानमंत्री ने कहा कि केरल में अब तेज (FAST) विकास का समय आ गया है। उन्होंने कहा कि इसमें एफ मत्स्य पालन और उर्वरकों के लिए है। E किसानी और आयुर्वेद के लिए है। एस कौशल विकास और सामाजिक न्याय के लिए है और टी पर्यटन व तकनीकी के लिए है। उन्होंने कहा, हमारी सरकार कृषि और किसानों के हित के लिए कई कदम उठा रही है। कई वर्षों से सरकानों ने एमएसपी (न्यूनतम समर्थन नूल्य) में वृद्धि का दावा तो किया लेकिन इसे पूरा नहीं किया।

‘मेट्रोमैन श्रीधरन केरल के सच्चे बेटे’
मोदी ने कहा, मेट्रोमैन श्रीधरन ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने भारत तो आधुनिक बनाने में और संपर्क बेहतक करने में शानदार काम किया है। वह ऐसे व्यक्ति हैं जिन्हें समाज का हर व्यक्ति पसंद करता है, उन्होंने केरल के विकास के लिए खुद को समर्पित कर दिया है। केरल के सच्चे बेटे के तौर पर वह सत्ता से ऊपर उठकर केरल के हित के लिए सोच रहे हैं।

‘तकनीकी को बनाएंगे केरल के विकास का आधार’
उन्होंने कहा कि केरल और पर्यटन, दोनों बहुत करीबी से जुड़े हुए हैं। एलडीएफ और यूडीएफ ने यहां पर्यटन के बुनियादी ढांचे को सुधारने के लिए कोई काम नहीं किया। हम यहां तकनीकी को विकास का आधार बनाना चाहते हैं। जब हम संपर्क और सड़कें बनाने पर काम करेंगे तो पर्यटन में अपने आप ही तेजी आएगी। पिछले सात साल में भारत ने पर्यटन के क्षेत्र में अपनी स्थिति काफी बेहतर की है।

यह भी पढ़े – पी गया चूहा सारी व्हिस्की… ऐसा अमिताभ बच्चन नहीं पुलिस कह रही है

तीनों राज्यों में छह अप्रैल को होगा मतदान
बता दें कि केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में एक ही चरण में छह अप्रैल को मतदान होना है। केरल में 140 विधानसभा सीटों पर मतदान होना है। तमिलनाडु की 234 विधानसभा सीटों पर मतदान होना है। वहीं, पुडुचेरी में 30 सीटों पर मतदान होगा। सभी राज्यों में मतगणना दो मई को होगी और इसी दिन परिणाम भी जारी कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़े – राजधानी लखनऊ में कोरोना सक्रमण बढ़ा, वित्त विभाग के कई कर्मचारी कोरोना के चपेट में!

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here