UPSIDC के पूर्व प्रबंधक श्रीकृष्ण त्रिपाठी 4.5 करोड़ रुपए के गबन के मामले में गिरफ्तार, EOW ने की कार्रवाई

0
80

द लीडर। उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम (UPSIDC) के पूर्व प्रबंधक श्रीकृष्ण त्रिपाठी को करीब 4.5 करोड़ रुपए के गबन मामले में गिरफ्तार किया गया है.

क्लोरीन टैबलेट की आपूर्ति में भारी गड़बड़ी

UPSIDC के पूर्व प्रबंधक पर यह कार्रवाई EOW (आर्थिक अपराध शाखा) ने की है. आरोप है कि, पूर्व प्रबंधक ने क्लोरीन टैबलेट की आपूर्ति में भारी गड़बड़ी की है.


यह भी पढ़ें: शामली : तीन साल पहले मुस्लिम से हिंदू बने संजू राणा पर ससुराल पक्ष बना रहा धर्म परिवर्तन का दबाव, जान को बताया खतरा

 

जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम (UPSIDC) के पूर्व प्रबंधक श्रीकृष्ण त्रिपाठी को अरेस्ट कर लिया.

श्रीकृष्ण त्रिपाठी को ईओडब्ल्यू की टीम ने लखनऊ से गिरफ्तार किया. ईओडब्ल्यू की टीम को क्लोरीन की टैबलेट की आपूर्ति में गबन किए जाने के मामले की जानकारी मिली थी.

साढ़े चार करोड़ रुपए का गबन

मामले की शिकायत मिलने के बाद घटनाक्रम की जांच की गई. जांच में पाया गया कि क्लोरीन टैबलेट की आपूर्ति में साढ़े चार करोड़ रुपए का गबन किया गया है.

इस जांच प्रक्रिया के बाद ईओडब्ल्यू (EOW) की टीम ने पूर्व मैनेजर को लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया. आर्थिक अपराध शाखा पूर्व मैनेजर पर कार्रवाई कर रही है.


यह भी पढ़ें:  Gyanvapi Masjid : ज्ञानवापी मस्जिद का जारी रहेगा सर्वे, कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष को दिया झटका, नहीं बदले जाएंगे कोर्ट कमिश्नर