प्रयागराज हिंसा के एक और आरोपी शाह आलम के घर चलेगा बुलडोजर : पीडीए ने 12 जुलाई तक जवाब देने को कहा

0
142

द लीडर। पैगंबर विवाद अभी थमा नहीं है। कल उदयपुर में नुपूर शर्मा के समर्थक की गला काटकर बेरहमी से हत्या कर दी गई है। इस हत्या के बाद मामले ने और तूल पकड़ना शुरू कर दिया है। फिलहाल उदयपुर हत्याकांड की एनआईए जांच कर रही है। वहीं देश के मुसलमानों ने भी इस घटना की निंदा करते हुए शांति बनाए रखने की अपील की है। लेकिन यूपी के प्रयागराज में हिंसा के दूसरे आरोपी के घर योगी सरकार का बुलडोजर चलने वाला है।

प्रयागराज में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद हिंसा भड़की थी। प्रयागराज हिंसा के मुख्य आरोपी के घर तो बुलडोजर चला दिया गया है। अब हिंसा के दूसरे आरोपी के घर बुलडोजर चलाने की तैयारी है। जिसको लेकर विकास प्राधिकरण ने नोटिस भी जारी कर दिया है।


यह भी पढ़ें: बिहार में AIMIM के 4 विधायक तेजस्वी की पार्टी में शामिल, BJP को पीछे छोड़ सबसे बड़ी पार्टी बनी RJD

 

मुख्य आरोपी जावेद पंप के घर चल चुका है बुलडोजर

प्रयागराज हिंसा के मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड जावेद मोहम्मद उर्फ जावेद पंप के घर पर पहले ही बुलडोजर चला दिया गया है। इस दौरान जमकर बवाल भी हुआ था। क्योंकि जावेद पंप की पत्नी के नाम पर उनका घर था। यह मामले इलाहाबाद हाईकोर्ट में विचाराधीन है। वहीं शाह आलम का घर जावेद पंप के ध्वस्त किए गए मकान के ठीक बगल में है।

शाह आलम के भाई के घर भी चस्पा किया था नोटिस

पीडीए ने पहले असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM के जिलाध्यक्ष शाह आलम के भाई के घर पर नोटिस चस्पा किया था। जिसकी मियाद आज खत्म हो चुकी है। उनकी तरफ से कोई जवाब पेश नहीं किया गया है। वहीं अब पीडीए कभी भी शाह आलम के भाई के घर पर बुलडोजर चला सकता है।

पीडीए ने शाह आलम के भाई मकसूद अहमद के घर 25 जून को ही कारण बताओ नोटिस चस्पा किया था। शाह आलम का मकान करेली इलाके की गौस नगर कॉलोनी में है। ये मकान शाह आलम के भाई मकसूद अहमद के नाम पर है।

AIMIM के जिला अध्यक्ष शाह आलम के खिलाफ एक नामजद एफआईआर भी दर्ज की गई है और उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी हुआ है। तीन मंजिला आलीशान मकान की कीमत करोड़ों में है।

शाह आलम को 12 जुलाई तक जवाब देने के निर्देश

वहीं अब प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने शाह आलम को 12 जुलाई तक पीडीए दफ्तर में पेश होकर जवाब देने को कहा है। वहीं, जवाब नहीं देने पर पीडीए शाह आलम के अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाएगा। शाह आलम के घर पर भी नोटिस चस्पा कर दिया गया है। संतोषजनक जवाब न मिलने पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई की जाएगी।

प्रयागराज के अटाला में हुई दस जून को हिंसा मामले में शाह आलम फरार चल रहा है, पुलिस ने शाह आलम की गिरफ्तारी पर 25 हजार का इनाम घोषित किया है. 10 जून को जुमे की नमाज के बाद प्रयागराज में जमकर हिंसा भड़की थी।

जुमा की नमाज के बाद अटाला में बवाल हुआ था, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हुए थे। फिलहाल पुलिस उपद्रवियों की धर पकड़ में जुटी है। अटाला हिंसा मामले में शाह आलम आरोपी है. कोर्ट ने शाह आलम के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट भी जारी किया है।


यह भी पढ़ें:  कुदरत का कहर : यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश में वज्रपात से कई लोगों की मौत, असम में बाढ़ से 25 लाख से ज्यादा प्रभावित