बरेली : वसीम रिजवी के खिलाफ बाजार बंद कर विरोध मार्च, दरगाह से उठी कार्रवाई की मांग

0
269
Bareilly Protest March Wasim Rizvi Dargah
वसीम रिजवी के खिलाफ कार्रवाई को लेकर विरोध मार्च.

द लीडर : शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी की कुरान शरीफ पर बयानबाजी के खिलाफ जनाक्रोश बरकरार है. दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान ने ट्वीटर पर एक पत्र साझा है, जिसमें वसीम रिजवी पर राज्य के विभिन्न जिलों में दर्ज 27 आपराधिक मामलों का विवरण है. हाल ही में यूपी के बरेली शहर में वसीम रिजवी पर केस दर्ज हो चुका है. इसी क्रम में शुक्रवार को मुस्लिम बाहुल्य सैलानी इलाके का बाजार बंद कर विरोध प्रदर्शन किया गया.

बज्म-ए-गौसे-ए-आजाम सामाजिक संगठन के आह्वान पर सैलानी, रजा चौक से थाना बारादरी तक मार्च निकला. संस्था के अध्यक्ष मुहम्मद रजा नूरी ने कहा कि वसीम रिजवी समाज का माहौल खराब करने की कोशिश कर रहा है. उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए.

महासचिव समरान खान ने कहा कि कुरान के खिलाफ गलतबयानी बर्दाश्त नहीं होगी. वसीम रिजवी ने मुस्लिम समाज की भावनाओं को चोट पहुंचाई है. सरकार उसके विरुद्ध कार्रवाई करे. इस दौरान एसीएम रोहित यादव को मांग पत्र सौंपा.


इसे भी पढ़ें : दरगाह आला हजरत से शब-ए-बरात का एलान, होली का रंग, मस्जिदों में इबादत एक ही दिन


 

दोपहर तीन बजे तक बाजार बंद रहा और विरोध के कारण मस्जिदों में जुमे की नमाज का वक्त भी एक बजे मुकर्रर किया गया था. जिलाध्यक्ष तमहीद ने मांग उठाई कि वसीम रिजवी के नफरत फैलाने वाले वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटाए जाएं.

इस विरोध मोर्च को दरगाह आला हजरत के मुफ्ती कफील हाशमी, खानकाह वामिकी के सज्जादानशीन असमल मियां वामिकी समेत कई सामाजिक संगठनों का समर्थन रहा.

दूसरी ओर दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन मुफ्ती अससन रजा कादरी ने शहर की जामा मस्जिद में जुमे की नमाज अदा कराई. इससे पहले अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि हम वसीम रिजवी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करते हैं. वसीम समाज में जहर घोलने का काम कर रहे हैं.


तंजानिया की पहली महिला राष्ट्रपति बनीं सामिया सुलुह हसन


 

शहर इमाम मुफ्ती खुर्शीद आलम ने कहा कि वसीम रिजवी की घटिया टिप्पणी से हिंदुस्तान ही नहीं बल्कि सारी दुनियां के मुसलमानों में आक्रोश है. एेसे लोग समाज के दुश्मन हैं. इस दौरान दरगाह के मीडिया प्रभारी नासिर कुरैशी आदि मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here