Friday, April 16, 2021
Homeदमदार ख़बरेंख़ास ख़बरदो विकेटकीपरों का कमाल, भारत का स्कोर सवा 300 के पार

दो विकेटकीपरों का कमाल, भारत का स्कोर सवा 300 के पार

द लीडर. पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे वनडे में भारत ने शुरुआती झटकों के बावजूद इंग्लैंड को चेज करने के लिए 337 रन का मजबूत लक्ष्य दिया है. दो विकेटकीपर बल्लेबाजों केएल राहुल और ऋषभ पंत का इसमें बड़ा योगदान रहा. दोनों के बीच मैदान पर बल्लेबाजी के दौरान प्रतिस्पर्धा देखने को मिली, मानो कौन सर्वश्रेष्ठ है. राहुल ने शतक जमाकर आगे खड़े होने का प्रयास किया, लेकिन पंत ने शानदार पारी से सभी का दिल जीत लिया. महज 40 गेंदों का सामना करके 77 रन ठोक दिए. उनके बल्ले से सात शानदार छक्के और तीन चौके निकले. जब वह टॉम करन की गेंद पर कैच आउट हुए तो भारत का स्कोर 300 का आंकड़ा पार कर चुका था.

सीरिज का दूसरा वनडे कल, दोनों टीमों में ये हो सकते हैं बदलाव

टॉस जीतकर इंग्लैंड ने पहले गेंदबाजी चुनी. उपकप्तान रोहित शर्मा के साथ शिखर धवन मैदान पर आए. पहले वनडे जैसी चपलता उनमें नहीं दिखाई दी. तेज गेंदबाद रीस टॉपले ने उन्हें काफी परेशान किया. आखिरकार वह टॉपले की स्विंग होकर तेजी से बाहर की तरफ निकल रही गेंद पर क्रीज में खड़े-खड़े स्टोक लगाने के प्रयास में बेन स्टोक्स को स्लिप में कैच थमा बैठे. धवन ने 17 गेंदों का सामना करके महज चार रन बनाए. उनके आउट होने के बाद रोहित भी जल्द ही चलते बने. 25 रन बनाकर सैम करन का बॉल पर आदिल रशीद को कैच थमा बैठे.

इसके बाद कप्तान विराट कोहली ने 79 गेंद पर 66 रन की धमाकेदार पारी खेली. आदिल का शिकार बनने से पहले उन्हें जीवनदान भी मिला. 35 रन पर विकेट कीपर जोस बटलर ने उनका कैच छोड़ दिया लेकिन फिर भी शतक नहीं ठोक सके. भारत की तरफ से शतक बनाने वाले बल्लेबाद केएल राहुल रहे. उन्होंने 114 गेंदों का सामना करके 108 रन बनाए. दो छक्के और सात चौके जमाए.

कप्तान कोहली ने ओपनिंग में आकर इंग्लैंड टीम के छक्के छुड़ाए

तेजी से रन बनाने के प्रयास में राहुल और पंत के आउट होने पर हार्दिक पांड्या और उनके बड़े भाई क्रुणाल पांड्या ने मोर्चा संभाल लिया. क्रुणाल थोड़ा संभलकर खेले लेकिन हार्दिक ने हाथ खोल दिए. 35 रन की आकर्षक पारी में हार्दिक ने चार लंबे छक्के लगाए. एक चौका लगाने के बाद टॉपले की गेंद पर जेसन रॉय को कैच थमा बैठे. क्रुणाल नौ गेंद में 12 रन बनाकर नाट आउट रहे. इस तरह भारत, इंग्लैंड के लिए 337 रन का मजबूत लक्ष्य रखने में कामयाब हो गया.

बल्लेबाजी के दौरान डेंजर जोन में दौड़ने पर भारतीय कप्तान और गेंद पर थूक लगाने के लिए बेन स्टोक्स को चेतावनी भी मिली. तब टॉपले गेंदबाजी कर रहे थे. अंपायर ने गेंद लेकर उसे सेनिटाइज कर खेल फिर से शुरू कराया. आइसीसी ने कोरोनाकाल के चलते थूक लगाने पर प्रतिबंध लगा रखा है. दो बार ऐसा करने पर अंपायर वार्निंग देता और तीसरे प्रयास में बतौर जुर्माना पांच रन बल्लेबाजी करने वाली टीम के खाते में जोड़ दिए जाते हैं.

क्रुणाल की रिकॉर्डतोड़ बल्लेबाजी और कृष्णा की शानदार गेंदबाजी से भारत ने इंग्लैंड को 66 रन से हराया

इंग्लैंड ने चोटिल कप्तान ओएन मोर्गन की जगह लियाम लिविंगस्टोन, सैम बिलिंग्स की जगह डेविड मलान को मौका दिया है. गेंदबाजी में मार्कवुड की जगह रीस टॉपले को उतारा, जबकि भारत ने चोटिल श्रेयस अय्यर के बजाय ऋषभ पंत को खिलाया. संभावना सूर्यकुमार यादव को उतारे जाने की थी लेकिन सलेक्टर्स ने उन पर पंत को तरजीह दी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments