ममता को मिला एक बड़े बीजेपी नेता का हाथ : टीएमसी में शामिल हुए यशवंत सिन्हा

BJP के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा शनिवार को TMC का हिस्सा बन गए। कोलकाता स्थित TMC भवन में उन्हें पार्टी के सीनियर नेताओं ने सदस्यता दिलाई। वह अटल सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं और पिछले कुछ वक्त से मोदी सरकार की कड़ी आलोचना करते आए हैं।

तृणमूल का हिस्सा बनने के बाद उन्होंने मीडिया से कहा- आपको शायद आश्चर्य हो रहा होगा कि जब मैंने दलगत राजनीति से खुद को अलग कर लिया था, तो फिर कैसे उसी में प्रवेश कर रहा हूं? दरअसल, देश बेहद अद्भुत परिस्थितियों से गुजर रहा है। जिन चीजों को हम अधिक महत्ता देते थे। मानते थे कि प्रजातंत्र में लोग उस पर अमल करेंगे, वे आज खतरे में हैं, क्योंकि उनका अनुपालन नहीं हुआ।

मोदी सरकार के आलोचक यशवंत सिन्हा
कोलकाता में टीएमसी दफ्तर में यशवंत सिन्हा ने पार्टी की सदस्यता ली। यशवंत सिन्हा काफी समय से मोदी सरकार का विरोध करते रहे हैं। बीजेपी से उनकी नाराजगी रही है और आज वह टीएमसी में शामिल हो गए हैं। टीएमसी पहले से ही बंगाल में मुश्किल में है क्योंकि बड़े नेता पार्टी से जा रहे हैं।

कौन हैं यशवंत सिन्हा
यशवंत सिन्हा आईएएस की नौकरी छोड़कर राजनीति में शामिल हुए थे। चंद्रशेखर सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं। अटल सरकार में वित्त मंत्री और विदेश मंत्री रह चुके हैं। अटल बिहारी वाजपेयी के करीबी नेता थे लेकिन नरेंद्र मोदी की बीजेपी उन्हें रास नहीं आई। अक्सर मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों से लेकर विदेश नीतियों तक की आलोचना करते रहें। उनके बेटे जयंत सिन्हा बीजेपी से सांसद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *