वंडर गर्ल स्वर्णिमा…जिन्हें चार साल की उम्र में 200 से ज़्यादा देशों के नाम और भागवत गीता के श्लोक कंठस्थ

0
208

The Leader. पिछले दिनों हमने आपको यूपी के जिला बरेली में रहने वाले विदुष जसोरिया से मिलवाया था. जिन्होंने महज 2.5 साल की उम्र में ही 145 अब्जेक्ट पहचाने का रिकार्ड बनाया है. उनका नाम इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज किया गया है. अब हम आपको जिस वंडर गर्ल से मिलाने जा रहे हैं उन्होंने फिलहाल तो काेई रिकार्ड अपने नाम नहीं किया है, लेकिन उसका टैलेंट देखकर आप खुद ही हैरान रह जाएंगे.


दरगाह आला हज़रत पर हाज़िरी के बाद अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष बोले-लव जिहाद की बात ग़लत


यूपी के जिला चित्रकूट में कर्वी की रहने वाली स्वर्णिम सिंह की उम्र महज चार साल है. मगर इतनी कम उम्र में ही उन्हें पूरा प्रियोडिक टेबल बल्कि विश्व के 200 से अधिक देशों के नाम, उनकी राजधानी, उनके नक्शे, महाद्वीपों के नाम, भारत के सभी राज्यों व उनकी राजधानियों के नाम याद है. इसके अलावा भागवत गीता के श्लोक भी कंठस्थ है. वह नाटो और सार्क जैसे संगठनों में शामिल देशों के नाम भी मुंह जुबानी जानती है. स्वर्णिम सिंह के पिता धर्मराज सिंह बताते हैं कि जब स्वर्णिम महज दो साल की थी, तभी से उसकी मेमोरी पॉवर बेहद शार्प है. वह एनिमल, वेजिटेबल, फ्लावर और देश-विदेश की प्रमुख पर्सनाल्टी के नाम चित्र देखकर बता देती थी.


श्रद्धा वालकर के बाद सपनों के शहर मुम्बई में वहशियाना क़त्ल की एक और वारदात


आपको बता दें कि जैसे-जैसे स्वर्णिम की उम्र बढ़ रही है, उनका टैलेंट भी निखरता जा रहा है. उनकी मां पूजा देवी और पिता धर्मराज भी उनके इस टैलेंट को पहचाकर निखारने में लगी है. उनके पिता ने स्वर्णिमा के कुछ वीडियो रिकॉर्ड किए हैं, जिसे देखकर आप खुद ही इस वंडर गर्ल के टैलेंट का अंदाजा लगा लेंगे. फिलहाल, स्वर्णिमा के पिता धर्मराज इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड और गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में उनका नाम दर्ज कराने के लिए आवेदन करने में जुटे हैं. द लीडर हिंदी भी स्वर्णिमा के स्वर्णिम भविष्य की कामना करता है कि वह अपने साथ ही देश का नाम भी रोशन करें.