श्रद्धा वालकर के बाद सपनों के शहर मुम्बई में वहशियाना क़त्ल की एक और वारदात

0
138

The Leader. फ़िल्मों की बदौलत देश और दुनिया को सीख देने वाली फिल्म नगरी में क़त्ल की दूसरी ऐसी वारदात सामने आई है, जिसने देखने-सुनने वालों को विचलित कर दिया है. श्रद्धा वालकर के बाद लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वाली एक महिला के साथ वहशियाना कृत्य अंजाम दिया गया है. क़त्ल के बाद शरीर के टुकड़े किए और फिर उन्हें कुकर में उबाला. ख़ैर लिव-इन पार्टनर के साथ हैवानियत करने वाले शख़्स को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है. उससे वारदात के पीछे का मोटिव पता करने के लिए पूछताछ की जा रही है.


मीडिया कर्मियों के बाद अब वकीलों के भेष में आए बदमाशों ने मुख़्तार गैंग के शूटर को कोर्ट कैंपस में मार डाला


मुम्बई से सटे मीरा भयंदर रोड इलाके में पुलिस के पास एक महिला को मार डालने की कॉल आई थी. पुलिस का कहना है कि गीता-आकाशदीप सोसायटी के निवासियों ने एक फ़्लैट से बदबू आने की शिकायत की थी. पुलिस फ्लैट का दरवाज़ा तोड़कर अंदर गई और पुलिस ने देखा कि एक महिला का शव पड़ा है. क़रीब 12-13 टुकड़े करके अलग-अलग जगह छिपाए गए हैं. इन टुकड़ों को प्रेशर कुकर में उबाला भी गया. शरीर के कुछ पार्ट पुलिस बरामद नहीं कर पाई है. सोसायटी में रहने वाले कुछ बच्चों का कहना है कि उन्होंने फ्लैट में रहने वाले मनोज साने को कुत्तों को कुछ खिलाते हुए देखा था. पुलिस ने मनोज को हिरासत में ले लिया है. वो सोसायटी से ही फोन जाने के बाद आया था. उसे पुलिस के पहुंचने की जानकारी नहीं थी.


Bareilly News : माफिया अशरफ के गुर्गें बताए जा रहे हैं फायरिंग करने वाले


पुलिस वारदात के पीछे की वजह तो साफ नहीं कर रही लेकिन फ्लैट से महिला के शरीर के पार्ट क़ब्ज़े में लेकर उन्हें पोस्टमार्टम के लिए जेजे हास्पिटल भेजा है. बतौर सुबूत उस कटर को जिससे शरीर काटा गया और जिस कुकर में उबाला गया, उसे साथ ले गई है. पुलिस ने 14 दिनों की कस्टडी की मांग की थी लेकिन कोर्ट ने 16 जून तक कस्टडी में भेजा. उससे पूछताछ की जा रही है. वारदात तीन से चार दिन पुरानी बताई जा रही है. मनोज साने और सरस्वती वैद्य लिव इन पार्टनर हैं, सोसायटी में रहने वालों को इसके बारे में भी जानकारी नहीं है. क़त्ल के बार में पुलिस का कहना है कि 3-4 दिन पहले का है.