कानपुर में जो जाता है वो वहीं का होकर रह जाता है, जानिए इस शहर की खासियत

0
86

द लीडर हिंदी : दुनिया में कई शहर ऐसे भी हैं जिन्हें हैप्पीएस्ट यानी खुशहाल माना जाता है. द हैप्पीएस्ट सिटी इंडेक्स में भारत के एक शहर को भी शामिल किया गया है.वो शहर है उत्तरप्रदेश का कानपुर. भले ही कानपुर की पहचान पान-गुटखे की पीक से बना दी गई हो, लेकिन इस शहर ने एक खास तमगा हासिल किया है.जी हां हैप्पीएस्ट सिटी इंडेक्स में कानपुर को भारत का सबसे खुश शहर बताया गया है. शायद आप किसी मेट्रो सिटी या टूरिस्ट प्लेस की उम्मीद कर रहे होंगे. लेकिन कानपुर ने इस सूची में जगह बनाकर सभी को चौंका दिया है. ट्रैवलिंग का शौक रखने वालों के लिए भी ये शहर बेस्ट है.कानपुर भारत का इकलौता शहर है जो सबसे खुश शहरों की सूची में शामिल है. Happiest City Index के सर्वे में यहां के लोग सबसे अधिक खुश पाए गए हैं.

कानपुर का कनपुरिया स्टाइल काफी अलग है. माना जाता है कानपुर के लोग जिंदा दिल होते है.जिसपर कानपुर एकदम खरा उतरा है. द हैप्पीएस्ट सिटी इंडेक्स की एक लिस्ट जारी हुई है जिसमें दुनिया के 40 शहरों को शामिल किया गया है. इस लिस्ट में इन शहरों को दुनिया से सबसे खुशहाल हैं और यहां रहने की बात ही अलग है. खास बात है कि इस लिस्ट में भारत के शहर कानपुर को भी जगह दी गई है जो अपने बेहतरीन माहौल से यहां रहने वाले ही नहीं टूरिस्ट का भी दिल जीत लेता है.एक वेबसाइट में दुनिया के 40 खुशहाल शहरों की लिस्ट पब्लिश की गई है. इसमें भारत के उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर को जगह दी गई है.

कानपुर भारत का सबसे खुशहाल
दरअसल, कानपुर की बोली और यहां की खुशमिजाज़ी कानपुर को एक जिंदा दिल शहर बनाती है. कानपुर को दुनिया के खुशहाल शहरों में शामिल किया गया है. कई हैप्पीएस्ट फैक्टर्स को ध्यान में रखकर द हैप्पिएस्ट सिटी इंडेक्स में कानपुर 11वें नंबर पर जगह दी गई है. इस इंडेक्स के कई दूसरे फैक्टर्स भी हैं जिसमें फ्रेंडलिएस्ट पीपल का फैक्टर भी शामिल है और इस लिहाज से कानपुर लिस्ट में 9वें नंबर पर रहा. सीधे शब्दों में कहे तो कानपुर के लोगों का व्यवहार भी इसे खुशहाल शहर बनाता है.

जानें हैप्पीनेस फैक्टर्स
इस लिस्ट में जो पांच शहर टॉप पर रहे हैं उनमें लिस्बन, बार्सिलोना, एथेंस, रोम और सिडनी के नाम शामिल हैं. कई फैक्टर्स जैसे फ्रेंडली पीपल, सनशाइन, लाइफ एक्स पेटेंसी, रहने का खर्चा और वीकली वर्किंग हॉर्स को ध्यान में रखकर लिस्ट को तैयार किया गया है. भारत के कानपुर को मोस्ट सनीएस्ट सिटी भी माना गया है.

कानपुर में कई घूमने की जगहें है
कानपुर शहर अपने गंगा घाट और गंगा बैराज के लिए मशहूर है.इसके अलावा कानपुर अपने स्वादिष्ट भोजन, लेडर प्रोडक्ट, बाजार और दोस्ताना बर्ताव वाले लोगों के लिए मशहूर है.यहां के लोग खुश माहौल के साथ खाने पीने और घूमने का भी शौक रखते है.तभी गंगा नदी के किनारे पर बसा कानपुर रहने ही नहीं घूमने के लिहाज से खुशहाल शहर है. हैप्पीएस्ट सिटी कानपुर में घूमना चाहते हैं तो आप मोती झील, श्री राधा कृष्ण मंदिर, बिठूर, फुल बाग, जाजमऊ किला, मिक्की हाउस, गंगा बैराज, ब्लू वर्ल्ड थीम पार्क के अलावा कई दूसरी जगहों पर घूमने जा सकते हैं.

40 शहरों में कानपुर हुआ हैप्पीएस्ट शहर में शामिल
दरअसल, iVisa वेबसाइट ने दुनिया के 40 खुशहाल शहरों की लिस्ट पब्लिश की है. इसमें कानपुर भी शामिल है। कानपुर के लोगों को मस्त-मौलाना, खुश मिजाजी, यारबाजी और फक्कड़पन के लिए तो बहुत पहले से जाना जाता है. कानपुर देश का इकलौता शहर है, जिसे इस सूची में शामिल किया गया है. इसमें दुनिया के 40 शहरों को शामिल किया गया है.

इस लिस्ट में इन शहरों को दुनिया से सबसे खुशहाल और यहां रहने की बात ही अलग बनाती है. यहां का माहौल यहां रहने वाले ही नहीं, टूरिस्ट का भी दिल जीत लेता है.कानपुर में खाना इतना सस्ता होता है कि कोई भूखा नहीं सोता. कहीं खाने की प्लेट एक हजार रुपये की है तो कहीं 20 रुपये की भी है. कानपुर भंडारा करने में भी आगे है.

जो कानपुर जाता है वो वहीं का हो जाता है
बतादें कानपुर की एक अलग ही खासियत है. वक्त के साथ दूसरे शहरों के मिजाज में बहुत बदलाव आया, लेकिन खासतौर पर कानपुर आज भी पुराना माहौल सहेजे हुए हैं. गंगा मेला यहां का सबसे बड़ा उदाहरण है.इसे सब मिलकर मनाते हैं.इसे गंगा-जमुनी तहजीब है, जिसमें सब अपने हैं. कोई पराया नहीं रहता. कोई कहीं से भी आए कुछ दिनों के बाद ऐसा यहां ऐसा घुल-मिल जाता है कि अपने को कनपुरिया कहने लगता है.