22 मार्च की रात…रुस में बड़ा आतंकी हमला, ले गया 60 लोगों की जान

0
54

द लीडर हिंदी : शुक्रवार (22 मार्च) की रात रूस की राजधानी मॉस्को में 5 आतंकवादियों ने वहां मौजूद लोगों पर गोलीबारी की. जिसके चलते करीब 60 लोगों की मौत हो गई और 115 लोग घायल है. रूस की राजधानी मॉस्को के एक कन्सर्ट हॉल में हुई अंधाधुंध गोलीबारी और बमबारी की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली है. घटना के वक्त मौजूद लोग डरे-सहमे हुए हैं. एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि कॉन्सर्ट शुरू होने से कुछ मिनट पहले ही गोलीबारी हुई.

वही AFP के मुताबीक IS ने टेलीग्राम मैसेजिंग ऐप पर एक बयान में कहा कि आईएस लड़ाकों ने “रूस की राजधानी मॉस्को के बाहरी इलाके में एक बड़ी सभा पर हमला किया है. आईएस ने अपने बयान में कहा है कि उसने मॉस्को के बाहरी इलाके में एक सभा के दौरान ईसाइयों की भीड़ को मार डाला है. सेना की वर्दी पहनकर घुसे इन आतंकियों ने पहले भीड़ पर गोलाबारी की फिर वहां बम फेंके.

रूसी समाचार एजेंसी के मुताबिक, हमले के दौरान बंदूकधारियों ने 6000 लोगों की क्षमता वाले हॉल में विस्फोटक फेंके, जिससे वहां भीषण आग लग गई.इसके बाद हॉल के बाहर से मिले सीसीटीवी फुटेज में इमारत को आग की लपटों से घिरा हुआ देखा जा सकता है, जबकि रात में धुएं के गुब्बार आसमान में छा गए. मौके पर कई अग्निशमन गाड़ियों, एम्बुलेंस और अन्य आपातकालीन वाहनों की चमकती नीली रोशनी सीसीटीवी फुटेज में कैद हुए हैं.

राहत और बचाव दल के लोगों ने हॉल के बेसमेंट से करीब 100 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला है. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता ने कहा है कि राष्ट्रपति इस हादसे पर नजर बनाए हुए हैं और मामले में पल-पल की प्रगति की जानकारी खुद ले रहे हैं. रूस के नेशनल गार्ड ने हादसे की सूचना पाते ही वहां मोर्चा संभाल लिया.बतादें कुछ दिन पहले ही देश में हुए चुनाव में जीत हासिल कर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सत्ता पर अपनी पकड़ को और मजबूत किया था. इसे रूस में पिछले दो दशक में हुआ सबसे भीषण आतंकी हमला माना जा रहा है.वही मॉस्को के मेयर सर्गेई सोबयानिन ने हमले को “बहुत बड़ी त्रासदी” बताया. यह हमला तब हुआ जब क्रोकस सिटी हॉल में प्रसिद्ध रूसी रॉक बैंड ‘पिकनिक’ के एक संगीत कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लोगों की भीड़ जमा थी.

आपको बतादें इस हमले की जानकारी मिलते ही रूस में पुलिस बल ने मोर्चा संभाल लिया. बाद में आतंकियों से निपटने के लिए अभियान शुरू किया गया. इस ऑपरेशन में हेलीकॉप्टर्स की भी मदद ली गई. घटनास्थल पर 50 से ज्यादा एंबुलेंस पहुंच गए, जिसमें घायलों को अस्पताल ले जाया गया. आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. आईएस ने इसे लेकर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा किया है.

ये भी पढ़ें-https://theleaderhindi.com/whoever-goes-to-kanpur-stays-there-know-the-specialty-of-this-city/