सऊदी अरब फिर शुरू करेगा अंतरराष्ट्रीय उड़ानें

0
361

कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए दो सप्ताह तक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को रद करने के बाद सऊदी अरब ने फिर सीमाएं खोलने की घोषणा की है। यूके में कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन मिलने के बाद 21 दिसंबर को रियाद ने अपनी सीमाएं बंद कर दी थीं।

रविवार को गृह मंत्रालय ने आधिकारिक सऊदी प्रेस एजेंसी का जारी एक बयान में कहा, सरकार कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के प्रसार से संबंधित एहतियाती कदम उठाने का निर्देश दिया था।

इस निर्देश पर रियाद ने 21 दिसंबर को लैंड क्रॉसिंग और बंदरगाहों के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को निलंबित कर दिया। अन्य खाड़ी देशों, ओमान और कुवैत ने भी इसी तरह के उपाय किए थे।

बयान में कहा गया है कि ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका या किसी भी देश में जहां कोरोनो वायरस का नया संस्करण फैल रहा है, वहां से आने-जाने वाले यात्रियों पर सख्ती रहेगी। इन देशों से आने वाले विदेशियों को सऊदी अरब में प्रवेश करने से पहले 14 दिन क्वारंटीन में बिताने होंगे और पहुंचने पर टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगी।

ऐसे देशों से लौटने वाले सऊदी नागरिक सीधे प्रवेश कर सकेंगे, लेकिन आने के बाद दो सप्ताह क्वारंटीन बिताना होगा और टेस्ट निगेटिव आने पर आम जीवन में जाना होगा।

सऊदी अरब में अब तक 3 लाख 63 हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें 6200 मौतें हुई हैं। खाड़ी अरब देशों में ये सबसे अधिक हैं। लेकिन रिकवरी दर भी बहुत अच्छी होने का दावा है। पिछले महीने सऊदी अरब फाइजर बायोएनटीटी वैक्सीन से राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान शुरू करने वाले पहले खाड़ी देशों में से एक था।

ये भी पढ़ें – क्या जीसीसी शिखर सम्मेलन खाड़ी देशों की अर्थव्यवस्था को पटरी पर ला सकेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here