बोरवेल में 35 फीट नीचे फंसे बच्चे का रेस्क्यू लगातार जारी, 45 फीट तक खोदा गया गड्ढा

0
51

The leader Hindi: बैतूल के मांडवी गांव में बोरवेल में गिरे 6 साल के मासूम बच्चे का रेस्क्यू जारी है। रेस्क्यू टीम ने दोपहर 3 बजे तक चट्टानों काे तोड़कर बोरवेल के करीब ही करीब 45 फीट गहरा गड्ढा खोद लिया है। इसमें पानी निकलना शुरू हो गया है, जिसे मोटर लगाकर बाहर निकाला जा रहा है। अब बच्चे तक पहुंचने के लिए 7 से 8 फीट लंबी सुरंग बनाने का काम किया जाएगा। NDRF की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन ऑपरेट कर रही है। ब्लास्टिंग एक्सपर्ट से टनल बनाने पर चर्चा हुई। पूरे मामले की खुद मॉनिटरिंग कर रहे सीएम शिवराज ने कहा ,प्रशासन को सभी जरूरी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं।

बुधवार को अधिकारियों ने सीएम को बताया कि NDRF-SDERF की टीम लगातार काम में जुटी है। तन्मय की सलामती के लिए दुआओं का दौर भी चल रहा है। पूरे गांव मे लोग पूजा-अर्चना कर उसकी सलामती की प्रार्थना कर रहे हैं। तन्मय के साथ पढ़ने वाले स्टूडेंट्स ने मांडवी के गायत्री मंदिर में गायत्री मंत्र का जाप किया।रेस्क्यू के काम में जुटे अधिकारियों का कहना है कि पानी के रिसाव के कारण सुरंग बनाने के दौरान ज्यादा एहतियात रखना होगा। इसके लिए मशीनरी का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। इस काम में एक्पीरियंस लोगों की एक टीम तैयार की गई है। टीम हल्की ड्रिल मशीन की मदद से सुरंग बनाने का काम करेगी। पानी का लगातार जमीन से रिसाव हो रहा है। ऐसे में दो पंप की मदद से पानी को बाहर निकालने का काम भी किया जा रहा है।

रेस्क्यू टीम के अफसर ने कहा- बच्चा किसी भी प्रकार से हरकत नहीं कर रहा है। हमारी कोशिश बच्चे तक जल्द से जल्द पहुंचने की है। बच्चे के हाथ ऊपर हैं। इस वजह से उसे खाने-पीने का कुछ नहीं भेज सकते। बोरवेल में ऑक्सीजन दी जा रही है। बच्चे से आखिरी बार कल यानी मंगलवार शाम 5 बजे के करीब बात हुई थी। तब उसने कहा था- यहां बहुत अंधेरा है। मुझे डर लग रहा है। जल्दी बाहर निकालो। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि पहली प्राथमिकता तन्मय को सकुशल बाहर निकालना है। बच्चे के गिरने के मामले की पूरी जांच की जाएगी। जिसकी भी गलती सामने आएगी, उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन से लगातार हम संपर्क में हैं। मुख्यमंत्री खुद पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. कलेक्टर, SP सहित तमाम अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। मौके पर 6 पोकलेन, 3 बुलडोजर और ट्रैक्टर मिट्‌टी-मुरम को हटाने में लगे हैं। बोरवेल से 30 फीट दूर समानांतर गड्‌ढा खोदा जा रहा है। सुरंग भी बनाई जा रही है। रेस्क्यू टीम ने बताया कि बच्चा बोर में 35 फीट गहराई पर फंसा हुआ है। उसके ऊपर पानी की बूंदें टपक रही हैं। पत्थर के कारण खुदाई का काम बहुत धीरे हो रहा है। एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर है।

कलेक्टर अमनबीर बैंस ने बताया कि बच्चे के हाथ में रस्सी बांधकर उसे ऊपर खींचने की कोशिश की गई, वो करीब 12 फीट ऊपर भी आ गया था। लेकिन इसी बीच रस्सी खुल गई और वो वहीं अटक गया। रात 12 बजे से साइड में एक नए गड्ढे को खोदने का काम शुरू करते हुए बच्चे को निकालने की कोशिश की जा रही है। बता दे हादसा मंगलवार शाम बैतूल जिले के आठनेर के मांडवी गांव में करीब 5 बजे हुआ। 6 साल का तन्मय दूसरे बच्चों के साथ छुपन-छुपाई खेल रहा था। पड़ोसी के बोरवेल में वह गिर गया। आवाज लगाने पर बोरवेल के भीतर से बच्चे की आवाज आई। इस पर परिवारवालों ने तत्काल बैतूल और आठनेर पुलिस को सूचना दी।

 

ये भी पढ़े:

दिल्ली में भाजपा का क़िला ढहा, MCD पर AAP का राज


(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)