कप्तानी में रहाणे का कमाल, शतकीय पारी से भारत मजबूत

0
405

द लीडर : ऑस्ट्रेलिया में परिस्थितिवश मिले मौके का अजिंक्य रहाणे ने फायदा उठाया। साबित कर दिया कि उनमें कमाल की नेतृत्व प्रतिभा है. विराट कोहली के पैटर्नल लीव पर चले जाने और रोहित शर्मा के टीम में मौजूद नहीं रहने पर मिली कप्तानी में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया. मैलबर्न टेस्ट के पहले दिन भारतीय पेसर और स्पिनर का सही इस्तेमाल करके ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को खुलकर खेलने से रोक दिया.

जसप्रीत बुमराह, मुहम्मद सिराज और रविंद्रन अश्विन ने बेहतरीन गेंदबाजी की। बुमराह ने चार, अश्विन तीन और स‍िराज ने दो बल्लेबाजों को पवैलियन भेजा। एक विकेट रविंद्र जडेजा को मिला. मैच के दूसरे दिन जब भारत की पारी शुरू हुई तो ओपनर मयंक अग्रवाल सस्ते में ही आउट हो गए. शुभमन गिल अच्छा खेल रहे थे लेकिन अर्धशतक से चूक गए। उन्होंने 45 रन बनाए. पुजारा भी कुछ खास नहीं कर पाए। स्कोर बोर्ड पर उनके नाम 17 रन ही टके थे, वह पैट कमिंस की गेंद पर विकेटकीपर टिम पेन को कैच थमा बैठे। भारतीय टीम के स्कोर में हनुमा विहारी का 21 रन का योगदान रहा।

फोटो, साभार सोशल मीडिया

ऐसे समय बल्लेबाजी के लिए क्रीज पर आए कप्तान रहाणे ने ऑस्ट्रेलिया की पेस बैटरी का सामना मजबूती से किया। ऑस्ट्रेलिया में अपने करियर का दूसरा और टेस्ट क्रिकेट में अपना बारहवां शतक पूरा किया. इसी के साथ रहाणे ने विराट कोहली के उस रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली, जो उन्होंने कप्तान बनने के तौर पर अपने पहले ही मैच में शतक जड़ा था। रहाणे ने कप्तान के रूप में शानदार प्रदर्शन के चयनकर्ताओं के सामने भविष्य के लिए एक मजबूत विकल्प पेश किया है.

उनके साथ ही जडेजा 40 रन बनाकर क्रीज पर डटे हैं. अभी भारत के पांच विकेट शेष हैं. भारतीय टीम पहली पारी के आधार पर 82 रन की बढ़त ले चुकी है. तीसरे दिन भी रहाणे से अच्छे खेल की उम्मीद की जा रही है। अगर भारतीय टीम 150 रन की बढ़त भी ले लेती है तो यह ऑस्ट्रेलिया को बैकफुट पर लाने के लिए काफी होगा।

बुलंदी पर सिराज के सितारे

अपने पहले टेस्ट मैच में युवा तेज गेंदबाज मुहम्मद सिराज ने सभी को प्रभावित किया। इनस्विंग और आउटस्‍व‍िंग दोनों ही तरह की गेंदें डालीं, जिससे उन्हें खेलते हुए ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाद काफी परेशान दिखे। पहले टेस्ट में ही उन्होंने दो विकेट हासिल किए।

मार्नस लाबुशेन को शुभम गिल के हाथों कैच आउट कराकर उनकी शानदार पारी का अंत कर दिया। इसके बाद जिस गेंद पर कैमरोन ग्रीन को एलबीडब्ल्यू आउट किया बेहतरीन इनस्विंगर थी. उनके इस प्रदर्शन की ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी ने भी दिल खोलकर तारीफ की. उन्होंने ईएसपीएन क्रिकइंफो से कहा-सिराज ने डेब्यू में ऊर्जा के साथ गेंदबाजी की. उनमें कमाल की परिपक्वता झलकी है. उम्मीद दिख रही है, दूसरी इनिंग में सिराज से और अच्छी गेंदबादी देखने को मिलेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here