देखिए देश की आजादी का अमृत महोत्सव

0
142

लखनऊ | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुजरात के अहमदाबाद में आजादी के 75वें साल के जश्न की शुरुआत की। जश्न के इस कार्यक्रम का नाम रखा गया है ‘आजादी का अमृत महोत्सव’। देश की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में मनाए जाने वाले ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत सात जगहों पर डिजिटल तरीके से प्रदर्शनियों का उद्घाटन किया गया। अहमदाबाद में मुख्य कार्यक्रम का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया। इस मौके पर पीएम मोदी ने अहमदाबाद में कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। उन्होंने दांडी मार्च को भी हरी झंडी दिखाई।

भारत की उपलब्धियां गिनाईं

पीएम मोदी ने कहा कि आज भी भारत की उपलब्धियां सिर्फ हमारी अपनी नहीं हैं, बल्कि ये पूरी दुनिया को रोशनी दिखाने वाली हैं, पूरी मानवता को उम्मीद जगाने वाली हैं। भारत की आत्मनिर्भरता से ओतप्रोत हमारी विकास यात्रा पूरी दुनिया की विकास यात्रा को गति देने वाली है। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना काल में ये हमारे सामने प्रत्यक्ष सिद्ध भी हो रहा है। मानवता को महामारी के संकट से बाहर निकालने में, वैक्सीन निर्माण में भारत की आत्मनिर्भरता का आज पूरी दुनिया को लाभ मिल रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि आज दुनिया के देश भारत का धन्यवाद कर रहे हैं, भारत पर भरोसा कर रहे हैं। यही नए भारत के सूर्योदय की पहली छटा है। यही हमारे भव्य भविष्य की पहली आभा है।

यह भी पढ़े – सड़क किनारे से मस्जिद मंदिर हटाएगी योगी सरकार

भारत में नमक के महत्व पर प्रकाश डाला

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे यहां नमक को कभी उसकी कीमत से नहीं आंका गया। हमारे यहां नमक का मतलब है- ईमानदारी। हमारे यहां नमक का मतलब है- विश्वास।हमारे यहां नमक का मतलब है- वफादारी।  पीएम मोदी ने कहा कि हम आज भी कहते हैं कि हमने देश का नमक खाया है। ऐसा इसलिए नहीं क्योंकि नमक कोई बहुत कीमती चीज है। ऐसा इसलिए क्योंकि नमक हमारे यहां श्रम और समानता का प्रतीक है।

पीएम मोेदी ने क्या-क्या किया ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी जी को श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद अभय घाट पहुंचे जहां गांधीजी के जीवन पर आधारित चित्र प्रदर्शनी का अवलोकन किया। अमृत महोत्सव का उद्देश्य युवा पीढ़ी को स्वतंत्रता संग्राम व आजादी के 75 साल की उपलब्धियां बताने के साथ आजादी के सौ साल पूरे होने पर विश्व गुरु भारत की झलक से अवगत कराना है।

यह भी पढ़े – वैक्सीन आने के बावजूद फिर पड़ी लॉकडाउन की ज़रुरत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here