उत्तर प्रदेश में अब किसी नये मदरसे को नहीं मिलेगा सरकारी अनुदान – योगी सरकार

0
122

द लीडर | मदरसों को लेकर उत्तर प्रदेश से बड़ी खबर सामने आई है। ताजा जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश सरकार अब किसी भी नए मदरसे को अनुदान नहीं देगी। मदरसे को अनुदान नहीं देने के फैसले पर मंगलवार 17 मई को योगी सरकार ने महुर लगा दी है। दरअसल, यह निर्णय मंगलवार 17 मई को हुई कैबिनेट की बैठक में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की ओर से लाए गए प्रस्ताव पर लिया गया है।

अखिलेश सरकार ने 100 मदरसों को अनुदान दिया

समाजवादी पार्टी की अखिलेश सरकार ने साल 2003 तक के आलिया स्तर तक के 146 मदरसों में से सौ को अनुदान दिया जा रहा था। हालांकि साल 2017 में आई योगी सरकार ने जब जांच की तो कई मदरसे मानक पर खरे नहीं उतरे जिसकी वजह से यह फैसला लिया गया। इससे पहले बीते महीने योगी आदित्यनाथ सरकार ने आधुनिक मदरसा योजना के तहत राज्य में मदरसों की जांच के निर्देश दिए थे।


यह भी पढ़े –AIMIM प्रवक्ता दानिश कुरैशी गिरफ्तार, शिवलिंग पर किया था आपत्तिजनक कमेंट


मदरसों की संख्या करीब 560

यूपी में मदरसों में अप्रैल के महीने में राष्ट्रगान का गायन अनिवार्य किया गया था। अनुदान प्राप्त या गैर अनुदानित मदरसों में शिक्षकों और छात्रों के लिए इसे अनिवार्य किया गया था इस समय प्रदेश में कुल मदरसों की संख्या 16 हजार से अधिक है,जिसमें 560 को अनुदान मिलता है। 146 नए मदरसों को अनुदान सूची में शामिल किया गया था। जिसे लेकर कुछ मदरसों ने आपत्ति भी जताई थी।

शिक्षकों को ट्रेनिंग देने का हुआ था फैसला