मुख़्तार अंसारी सुपुर्द-ए-ख़ाक…पर क्यों चर्चा में आए आज़म ख़ान

0
20

द लीडर हिंदी : यूपी के गाज़ीपुर मुहम्मदाबाद के कालीबाग़ क़ब्रिस्तान में मुख़्तार अंसारी को सुपुर्द-ए-ख़ाक किए जाने के बाद अचानक से आज़म ख़ान चर्चा में आ गए हैं. उनके वीडियो शेयर किए जा रहे हैं और मांग हो रही है कि उनकी सुरक्षा बढ़ाई जानी चाहिए. इस मांग को उठाने वालों में भीम आर्मी चीफ़ चंद्रशेखर आज़ाद का नाम भी शामिल है.समाजवादी पार्टी के क़द्दावर नेता मुहम्मद आज़म ख़ान बेटे अब्दुल्ला आज़म के दो पासपोर्ट से जुड़े मामले में सज़ा होने के बाज से सीतापुर जेल में बंद हैं.

मुख़्तार अंसारी की बांदा जेल में तबियत बिगड़ने और मेडिकल कॉलेज में मौत हो जाने के बाद से आज़म ख़ान ट्रेंड होने लगे. उनका वो वीडियो शेयर किया जा रहा है, जिसमें रामपुर जेल से सीतापुर शिफ़्ट होने पर आशंका जता रहे हैं कि उनकी हत्या हो सकती है. आज़म ख़ान के नाम के कथित एक्स हैंडल से एक दर्जन से ज़्यादा पोस्ट भी शेयर किए गए हैं. 43.3 K फॉलोवर वाले एक्स हैंडल से सपा मुखिया अखिलेश यादव से सवाल भी किए गए हैं कि आख़िर क्यों उनका एक भी ट्वीट नहीं आया.

आज़म ख़ान के कथित एक्स हैंडल का मामला एक प्रमुख अख़बार ने सीतापुर से प्रकाशित भी किया है. जेल प्रशासन के हवाले से साफ भी किया गया है कि आज़म ख़ान के पास कोई मोबाइल नहीं है.वही इस बीच भीम आर्मी के चीफ़ चंद्रशेखर आज़ाद ने मुख्तार अंसारी की मौत पर कहा कि जेल में बंद आजम खान की सुरक्षा बढ़ाए जाने की ज़रूरत है. उनकी जान को खतरा है. आज़म ख़ान परिवार के सभी लोगों को एक जेल में शिफ्ट किया जाना चाहिए. यह भी कहा कि मैं पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी की मौत के बाद से आज़म ख़ान को लेकर काफी चिंतित हूं. जेल के अंदर उनके स्वास्थ्य का सही से ख़्याल नहीं रखा जा रहा है. ज्यादतियां हो रही हैं.

एक्टर-फिल्म मेकर कमाल राशिद ख़ान नाम के यूज़र एकाउंट से भी ट्वीट किया. लिखा कि मुख्तार अंसारी का निधन हो गया है. अब सिर्फ आज़म ख़ान बचे हैं. बसपा के कुछ कार्यकर्ताओं की तरफ से आज़म ख़ान की सुरक्षा चुस्त-दुरुस्त करने की मांग उठाई गई है. इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ के कुछ वीडियो भी शेयर किए जा रहे हैं. जिसमें वो माफिया को मिट्टी में मिलाने की बात कह रहे हैं.

ये भी पढ़ें-https://theleaderhindi.com/bhim-army-chief-chandrashekhar-said-there-is-a-threat-to-azam-khans-life-read/