मौलाना कल्बे जवाद ने किया बड़े प्रदर्शन का एलान, वक्फ के मुतवल्ली से हुई थी मारपीट

0
215

लखनऊ: बीते दिनों लखनऊ में मौलाना कमरुल हसन से हुई मारपीट का मामला अब गहराता हुआ दिख रहा है। इस मामले में FIR तक दर्ज न होने से नाराज शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद ने जल्द ही लखनऊ में बड़े प्रदर्शन का एलान किया है। इसके साथ ही मौलाना कल्बे जवाद ने एक वीडियो जारी कर लोगों से इस प्रदर्शन जुड़ने की अपील भी की है ।

वहीं मौलाना ने बताया है कि मारपीट की घटना बीते 29 अप्रैल की है जब वक्फ इमामबाड़ा कर्बला अजीम उल्ला खा तालकटोरा के मुतवल्ली  मौलाना कमरुल हसन कर्बला की जमीन हो रहे अवैध अतिक्रमण को देखने के लिए मुतवल्ली की हैसियत से पहुंचे थे। जहां उन्होंने पहले अवैध निर्माण कार्य  का विरोध किया और फिर अपना फ़ोन निकालकर फोटो लेने की कोशिश की तो उनके साथ वंहा मौजूद लोगों ने मारपीट की। वहां निर्माण कार्य करा रहे मो. इरशाद और उनके पुत्र मो. इमरान समेत दस बारह लोगों  ने उन्हें बुरी तरह से पीटा। जिसे वीडियो में साफ देखा जा सकता है। इस दौरान  मौलाना कमरुल हसन  को  गंभीर चोटें भी आई। वंही जब इस घटना के बाद SHO तालकटोरा को फ़ोन किया गया तब उन्होंने घटनास्थल पर जाने से माना कर दिया साथ ही अभी तक तमाम प्रयासों के बावजूद कोई FIR दर्ज नहीं की गई है। साथ ही मौलाना जवाद का ये भी कहना है कि पीटने वाले समाजवादी पार्टी के लोग थे और मारपीट के दौरान उन लोगों ने भाजपा को भी अपशब्द कहे।
इस पुरे मामले को देखते हुए सबसे बड़ा सवाल ये है कि जहां सरकार एक तरफ वक्फ की जमीन पर अवैध कब्जे हटाने के लिए सख्त करवाई करने की बात करती है। वहीं दूसरी तरफ अवैध कब्जे को देखने गए मुत्व्वाली के साथ हुई मारपीट के बाद प्रशासन का सुस्त रवैया ये दर्शाता है कि किसी न किसी स्तर पर लापरवाही जरूर की जा रही है।