संसद में किसानों के मुद्​दे नहीं उठा सकते तो सदन चलाने का क्या मतलब : संजय सिंह

0
291
Farmers Issues Parliament Sanjay
साभार, राज्यसभा टीवी.

नई दिल्ली : केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों में बने अंसतोष और आंदोलन पर चर्चा के लिए विपक्ष ने सदन में नोटिस दिया. राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने कहा कि, किसानों के विरोध-प्रदर्शन पर आज नहीं, बल्कि कल यानी बुधवार को चर्चा होगी. इसको लेकर 11:30 बजे तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित रही.

कृषि कानूनों के खिलाफ दो महीने से अधिक समय से किसान दिल्ली की सीमाओं पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. उनकी मांग है कि कानूनों को वापस लिया जाए. विपक्ष, किसानों की मांग के साथ खड़ा है. यही वजह है कि सदन में पहले दिन ही किसानों के मुद्​दे पर विपक्ष के तेवर दिखे.

राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि, ‘सदन में सबसे पहले तीनों काले कानून वापस लेने पर चर्चा होनी चाहिए. यहां अगर हम किसान के मुद्​दे नहीं उठा सकते हैं तो सदन चलाने का मतलब क्या है.’ राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित होने पर समाचार एजेंसी एएनआइ से संजय सिंह ने यह बात कही.

एक दिन पहले ही वित्तमंत्री ने 2020-2021 का बजट किया था. और मंगलवार को सदन में इस पर चर्चा होनी है.

इसे भी पढ़ें : किसान मोर्चा ने किया 6 फरवरी को देशव्यापी चक्काजाम का ऐलान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here