डीजी सूचना पद से हटे मेहरबान अब रणवीर

0
162

द लीडर देहरादून

 

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अब अलोकप्रिय अफसरों की तरफ नज़र घुमाई है। पहली गाज महानिदेशक (सूचना) मेहरबान सिंह पर गिरी। मेहरबान पीसीएस हैं उनकी जगह IAS अफसर डॉ. रणबीर सिंह चौहान को पत्रकारों और मीडिया का भरोसा जीतने की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है। मनबीर ने किस तरह कुछ खास लोगों पर मेहरबानी की और किस को निशाना बनाया यह सोशल मीडिया में आता ही रहा। आज भी सुबह से ही कुछ ऐसी पोस्ट चल रही है। इससे पहले वरिष्ठ पत्रकार जय सिंह रावत की शिकायत पर उन्हें प्रेस काउंसिल में भी तलब किया गया था। मुख्य सचिव ओम प्रकाश की तरह मनबीर पर भी मुख्यमंत्री को भ्रमित करने के आरोप लगते रहे।

इससे पहले नई सरकार ने कुछ पीसीएस अफसरों को अलग-अलग जिलों से ला कर कुम्भ मेले की ड्यूटी पर लगाया, लेकिन उनको रूटीन किस्म का और सामान्य जरूरतों के मुताबिक माना गया। असली तबादला या गाज गिराने वाला फैसला सूचना महानिदेशक मेहरबान को हटाने का रहा। माना जा रहा है कि पिछले CM त्रिवेन्द्र सिंह रावत के खसमखास-शक्तिशाली होने और पत्रकारों के उनसे-सरकार स नाराज रहने के नतीजे के तौर पर मेहरबान को हटाया गया।

उनके पास खनन निदेशक-अपर सचिव (मुख्यमंत्री-राजस्व-खनन) बरकरार है।
डॉ. रणबीर के पास MD-परिवहन निगम, VC-MDDA, अपर सचिव-परिवहन जैसे कोई भी विभाग हटाए नहीं गए हैं। उनको नई ज़िम्मेदारी अतिरिक्त के तौर पर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here