विधान परिषद चुनाव में भाजपा फिर सिरमौर, बरेली-मुरादाबाद सीट पर जयपाल व्यस्त की हैट्रिक

0
231

The Leader. सूबे के प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी की तरफ से दावे-बातें तो बहुत की गईं लेकिन विधान परिषद की पांच सीटों के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ही सिरमौर रही. चार सीट भाजपा और निर्दलीय के खाते में गई है. बरेली-मुरादाबाद खंड स्नातक सीट की बात करें तो भाजपा प्रत्याशी डॉ. जयपाल सिंह व्यस्त ने जीत की हैट्रिक पूरी कर ली. सपा ने उन्हें उनके चेले रुहेलखंड विश्वविद्यालय छात्र संघ अध्यक्ष रहे शिवप्रताप सिंह से शह तो दिलाई लेकिन गुरू-गुरू ही रहे. चेले को करारी मात का सामना करना पड़ा. वो ज़मानत भी नहीं बचा सके.


गिल का ये बोलता बल्ला, उमरान की रफ़्तार और कप्तानी से मज़बूत होते हार्दिक के कांधे, लौट रहा माही वाला दौर


बरेली के परसाखेड़ा में गुरुवार को सुबह से शुरू हुई मतगणना देर रात तक चलती रही. तड़के गिनती पूरी होने के बाद परिणाम घोषित कर दिया गया. डॉ. जयपाल 51257 वोट से चुनाव जीते हैं. उन्होंने कुल 66179 वोटल हासिल किए. शिवप्रताप के वोटों की गिनती 14922 पर पहुंचकर थम गई. उनकी ज़मानत ज़ब्त हो गई. आठ और प्रत्याशी भी मैदान में थे. वो भी ज़मानत बचाने लायक़ वोट नहीं पा सके. कमिश्नर एवं रिटर्निंग आफ़ीसर संयुक्ता समद्दार ने डॉ. जयपाल को जीत का सर्टिफिकेट सौंपा. वो तड़के मुरादाबाद के लिए रवाना हो गए.


अजमेर में ख़्वाजा ग़रीब नवाज़ की दरगाह पर आला हज़रत का सलाम पढ़ने पर रज़वियों से मारपीट


बरेली-मुरादाबाद सीट पर 1986 से भाजपा का दबदबा क़ायम है. तमाम कोशिशों के बावजूद सपा या अन्य विपक्षी दल भाजपा के तिलिस्म को तोड़ नहीं पाए हैं. पहले इस सीट से डॉ. नैपाल सिंह जीतते रहे. वो रामपुर से सांसद बन गए तो उनका उत्तराधिकारी भाजपा ने डॉ. जयपाल सिंह व्यस्त को बनाया. उपचुनाव के बाद वो तीसरी बार विजयी हुए हैं. भाजपा ने कानपुर को छोड़कर गोरखपुर-फ़ैज़ाबाद, कानपुर-उन्नाव, प्रयागराज-झांसी में भी जीत हासिल की है. पार्टी के जीत का परचम लहराने के साथ ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने सपा पर करारा हमला बोला है. कहा है कि अहंकारी और गुंडागर्दी करने वाली समाजवादी पार्टी अब समाप्तवादी पार्टी बनने जा रही है.


यह भी पढ़ें-

ख़ानदान-ए-आला हज़रत के सबसे पावरफ़ुल दामाद सलमान हसन को बहुत भारी पड़ गई यह एक मुलाक़ात