कानूनी शिकंजे में फंसते जा रहे आजम खां, आज होगा डूंगरपुर प्रकरण से जुड़े तीसरे मामले में फैसला

0
27

द लीडर हिंदी : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार का समाजवादी पार्टी के नेताओं पर कानूनी चाबूक चला रहा है. इरफान सोलंकी हो या फिर सपा के कद्दावर नेता आज़म खान सभी की मुश्किलें बढ़ती जा रही है. अगर बात करें आज़म खान की तो ये कानूनी शिकंजे में फंसते ही जा रहे हैं. मिली जानकारी के मुताबीक सीतापुर जेल में बंद आजम खान के खिलाफ डूंगरपुर प्रकरण से जुड़े तीसरे मामले में रामपुर की एमपी-एमएलए कोर्ट गुरुवार को फैसला आ सकता है. सपा नेता आजम खां पर दर्ज डूंगरपुर बस्ती में घर में घुसकर मारपीट व डकैती और आपराधिक षड्यंत्र रचने के एक और मामले में बृहस्पतिवार को कोर्ट अपना फैसला सुना सकती है

आजम खान समेत 8 लोग इस मामले में आरोपी हैं. इससे पहले डूंगरपुर प्रकरण से जुड़े एक मामले में आजम खान बरी हो चुके हैं, जबकि दूसरे मामले में उन्हें 7 साल की सजा और 8 लाख का जुर्माना लगाया गया था.

दरअसल, पूरा मामला 3 फरवरी 2016 से जुड़ा है. आजम खान और अन्य आरोपियों पर घर में घुसकर मारपीट करने, डकैती और आपराधिक षडयंत्र रचने का आरोप है. डूंगरपुर बस्ती खाली कराने के इस मामले में 2019 में थाना गंज में 12 मुकदमें दर्ज हुए थे. एक में आजम खान हो चुके हैं बरी, दूसरे में आजम खान को सात साल की सजा और 8 लाख जुर्माना लगाया गया है. तीसरे मामले में कोर्ट से आज फैसला आ सकता है. तीसरे मामले में 11 मार्च को बहस पूरी हो चुकी है.

आजम खान वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे
आज फैसले के लिए आजम खान सीतापुर जेल से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये जुड़ेंगे। दरअसल, सपा शासनकाल मेंडूंगरपुर बस्ती में आसरा आवास बनाए गए थे. जिस जगह पर आसरा आवास बनाए गए वहां पर पहले से ही कुछ मकान बने हुए थे, लेकिन उन्हें सरकारी जमीन पर बना बताकर 2016 में तोड़ दिया गया था. इसके बाद बीजेपी सरकार आने के बाद इन्हीं पीड़ितों द्वारा 2019 में गंज थाने में 12 मुकदमे दर्ज करवाए गए थे. इनमें आरोप लगा है कि आजम खान के इशारे पर इनके घरों को जबरन तोड़ा गया था.

कैमरामैन ने दी गवाही

बतादें आजम खां द्वारा सपा के नेता रहे अमर सिंह के परिवार के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में बुधवार को कैमरामैन ने कोर्ट में गवाही दी.वही आजम खां के अधिवक्ता ने जिरह की. उनकी गवाही पूरी हो गई है. इस मामले की सुनवाई नौ अप्रैल को होगी.

बताते चलें कि जौहर विश्वविद्यालय में सपा नेता आजम खां ने एक निजी चैनल को साक्षात्कार देते हुए दिवंगत सपा नेता अमर सिंह के परिवार पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जिस पर उनके खिलाफ लखनऊ में केस दर्ज हुआ था. जिसके बाद यह मामला अजीमगनगर थाने में स्थानांतरित कर दिया गया था. यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है.वही आजम खान के खिलाफ डूंगरपुर प्रकरण से जुड़े तीसरे मामले में फैसला आज आ सकता है.

ये भी पढ़ें-https://theleaderhindi.com/bareilly-javed-the-second-accused-in-the-badaun-murder-case-was-sitting-in-the-auto-said-i-did-not-do-anything-my-brother-committed-the-murder/