यूपी : बदायूं में महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म, पसली-पैर तोड़े, फेफड़े पर हमला कर मौत के घाट उतारा

0
535
(UP Gang Rape Badaun )
पीड़‍ित पर‍िवार से मुलाकात करते एडीजी

बदायूं : उत्तर प्रदेश के हाथरस दुष्कर्म कांड (Hathras Rape Case) से उपजा गुस्सा और गम अभी हल्का ही पड़ा था कि अब बदायूं से एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है. मंदिर के लिए पूजा को निकली एक महिला की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई. वो भी इतनी बेरहमी से कि पहले महिला की पसली और पैर तोड़े गए. फिर फेफड़े को वजनदार चीज से दबाकर घटना को अंजाम दिया गया. (UP Gang Rape Badaun )

मंगलवार को पोस्टमार्ट रिपोर्ट से ये दरिंदगी उजागर हुई है. जिसे थानाध्यक्ष ने सामान्य हादसे के रूप में गढ़कर दबाने का प्रयास किया था.

उघैती में पीड़‍िता के पर‍िजनों से मुलाकात करते एडीजी अव‍िनाश चंद्रा

अब इस मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, पूर्व मुख्यमंत्री मायावती और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सरकार पर निशाना साधा है.

ये घटना रविवार को उघैती क्षेत्र में घटी. महिला दूसरे गांव स्थित मंदिर में पूजा के लिए निकली थीं. तब उनके साथ ये हादसा हुआ है. आरोप है कि रविवार की रात को पुजारी और दो अन्य लोग महिला को लहूलुहान हालत में घर पर छोड़कर फरार हो गए थे.


इसे भी पढ़ेें : सुप्रीमकोर्ट ने लव ‘जिहाद कानून’ पर यूपी और उत्तराखंड सरकार को जारी किया नोटिस


 

महिला के प्राइवेट पार्ट से खून बहता देख परिजनों ने पुलिस से एफआइआर दर्ज करने की गुहार लगाई. इस बीच तक पीड़िता की मौत हो चुकी थी. आरोप है कि थानाध्यक्ष ने कार्रवाई करने के बजाय ये कहानी गढ़ी कि महिला की मौत कुएं में गिरने से हुई है.

बहरहाल, एसएसपी ने संकल्प शर्मा ने इस मामले में थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया है. घटना में शामिल दो आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है, जबकि मुख्य आरोपी पुजारी अभी तक फरार है.

पीएम रिपोर्ट से ये खुलासा

पीएम रिपोर्ट के मुताबिक महिला के प्राइवेट पार्ट में रॉड जैसी किसी चीज से हमला किया गया है. उनके अंदरूनी पार्ट में गंभीर चोटें आई हैं. पसली और पैर भी टूटे पाए गए. साथ ही फेफड़ों को किसी वजनदार चीज से दबाने का तथ्य उजागर हुआ है.

सपा प्रमुख अख‍िलेश यादव ने ट़वीट के जर‍िये सरकार पर न‍िशाना साधा है.

 


किसान आंदोलन पर सुप्रीमकोर्ट ने जताई चिंता, कोई बदलाव नजर नहीं आ रहा


प्र‍ियंका का वार, महि‍ला सुरक्षा पर सरकार की नीयत में खोट 

कांग्रेस महास‍चिव प्र‍ियंका गांधी ने अपने ट़वीट में कहा क‍ि ‘हाथरस सरकारी अमले ने शुरुआत में फर‍ियादी की नहीं सुनी, सरकार ने अफसरों को बचाया और आवाज को दबाया, बदायूं में थानेदार ने फर‍ियादी की नहीं सुनी, घटनास्‍थल का मुआयना तक नहीं क‍िया, मह‍िला सुरक्षा पर यूपी सरकार की नीयत में खोट है.’
वहीं, इस मामले में पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती ने दोष‍ियों को सख्‍त सजा द‍िलाने की मांग की है.

घटना पर व‍िपक्ष के हमलावर होने के बाद शासन ने इस मामले की जांच एसटीएफ से कराने का फैसला क‍िया है: 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here