बरेली से वो राहत जो मिस्र के रास्ते पहुंचाई जा रही है ग़ज़ा

0
23

द लीडर हिंदी : इज़राइल और फ़िलस्तीन के बीच लगातार जंग हो रही है. फ़िलस्तीन के लोग भूखमरी से जूझ रहे है.जिनकी मदद के लिये पांचवीं खेप गज़ा पहुंचाई गई.बता दें मरकज़-ए-अहले सुन्नत बरेली से ग़ज़ा के मज़लूमों की मदद का सिलसिला जारी है. वहां खाने की चीजों और पीने के पानी की दिक़्क़त को दूर करने के लिए 13 ट्रक मिस्र के रास्ते रवाना किए गए हैं. इसमें भरे 10 टन चावल, साढ़े 5 टन मेकरोनी और 36 हज़ार पानी की बोतल का इंतज़ाम आला हज़रत वेलफेयर ट्रस्ट की तरफ से किया गया था.

ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं आल इंडिया रज़ा एक्शन कमेटी के युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना अब्दुल्ला रज़ा क़ादरी ने बताया कि ग़ज़ा के लिए इससे पहले चार खेप और भेज चुके हैं. उन्होंने कहा जब तक फ़िलस्तीन में हालात सामान्य नहीं हो जाते मदद का यह सिलसिला जारी रखा जाएगा. अब्दुल्ला मियां ने रमज़ान के बचे हुए दिनों में फ़िलस्तीन के मज़लूमीन के लिए रोज़ेदारों से दुआ का आह्वान किया है.

इसके साथ ही मौलाना अब्दुल्लाह रज़ा क़ादरी ने बताया हमारी जानिब से गाज़ा के मज़लूम भाई बहन बच्चों के लिए बड़ी तादाद पे खाने पीने का सामान खजूर चावल पानी बिस्किट जैसे राहत साम्रगरी भेजी गई है और आगे भी लगातार सिलसिला जारी रहेगा.

इसके आगे आलाहज़रत वेलफेयर ट्रस्ट व आर ए सी के वरिष्ठ सदस्य हाफ़िज आलम रज़ा बरकातीं ने बताया कि मौलाना अब्दुल्लाह रज़ा क़ादरी ने इस ट्रस्ट का गठन 30 जुलाई 2020 को करा था.मौलाना अब्दुल्लाह रज़ा क़ादरी आलाहज़रत वेलफेयर ट्रस्ट जानिब से बड़े पैमाने पे समाज सेवा ज़रूरत के मुताबिक़ करते रहते हैं. ग़रीब तबके से मुहब्बत करना हज़रत के खानदान का पुराना रिवाज है.

ये भी पढ़ें-https://theleaderhindi.com/in-a-situation-of-great-confusion-samajwadi-canceled-atul-pradhans-ticket-from-meerut-seat-and-gave-a-chance-to-sunita-verma/