श्रद्धा ने कर लिया था आफताब से अलग रहने का फैसला, 5 दिसंबर को संभव नार्को टेस्ट

0
57

The leader Hindi: श्रद्धा वालकर अपने लिव-इन पार्टनर आफताब अमीन पूनावाला की मारपीट से परेशान थी। उसे छोड़ना चाहती थी। दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि 3-4 मई को आफताब और श्रद्धा ने अलग रहने का फैसला किया था। यह बात आफताब को रास नहीं आई। उसे लगता था कि श्रद्धा किसी और के साथ चली जाएगी। इसके बाद आफताब ने श्रद्धा का मर्डर कर उसके टुकड़े कर दिए। आफताब का मंगलवार को कड़ी सुरक्षा के बीच पॉलीग्राफी टेस्ट किया गया। रोहिणी FSL के बाहर BSF तैनात की गई थी, क्योंकि सोमवार शाम पूछताछ के बाद यहां आफताब पर हमला करने की कोशिश की गई थी। अब 1 दिसंबर को आफताब का नार्को टेस्ट होगा। दिल्ली पुलिस को कोर्ट से इसकी मंजूरी मिल गई है।स्पेशल कमिश्नर ऑफ पुलिस सागरप्रीत हुड्‌डा ने दिल्ली कोर्ट से 1 दिसंबर को आफताब का नार्को टेस्ट करवाने की अपील की थी, जिसे मंजूरी मिल गई है। आफताब का नार्को टेस्ट बाबा साहब अंबेडकर हॉस्पिटल में होगा।

पुलिस सूत्रों से यह जानकारी भी मिली है कि पूछताछ के दौरान आफताब बहुत ज्यादा कॉन्फिडेंट है। जब उससे पूछताछ की जाती है, तो वह बहुत तेजी से और रिलेक्स होकर जवाब दे रहा है। इससे लगता है कि वह पहले से सोचे-समझे जवाब देता है।सोमवार को आफताब पर हमले के बाद लैब के बाहर BSF तैनात की गई है। हमले के 2 आरोपियों को 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्टडी पर जेल भेज दिया गया है।दिल्ली पुलिस ने श्रद्धा को जॉब दिलाने वाले जिमेश नांबियार का बयान दर्ज किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रद्धा के पिता ने भी अपना बयान दर्ज करवाया है।

पुलिस को शक यह भी है कि जब सितंबर-अक्टूबर में आफताब को मुम्बई पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था, उस वक़्त श्र्द्धा के कुछ बॉडीपार्ट्स उसके दिल्ली वाले फ्लैट में मौजूद थे।इधर दिल्ली पुलिस ने गूगल पे, पेटीएम, बंबल डेटिंग ऐप (Bumble dating App), फेसबुक, इंस्टाग्राम समेत कई प्लेटफॉर्म्स को चिट्ठी लिखकर आफताब के अकाउंट्स की डिटेल्स मांगी थी। कुछ ऐप ने डिटेल्स दी भी हैं। पुलिस को गूगल ब्राउजिंग के कुछ संदिग्ध लिंक मिले हैं, जिन्हें आफताब ने सर्च किया था।पुलिस को आफताब की निशानदेही पर अभी तक 13 हड्डियां मिली हैं। उसका जबड़ा मिलने की जानकारी भी मिली है। गुरुग्राम से भी कुछ बॉडी पार्ट रिकवर होने की बात सामने आई है। बाथरूम और किचन के अलावा FSL को बैडरूम से भी खून के धब्बों के सेंपल मिले हैं, जिन्हें जांच के लिए भेजा गया है। दिल्ली पुलिस ने जंगल और आफताब के फ्लैट से कुछ हथियार भी बरामद किए हैं। हालांकि, इनमें से किस हथियार से श्रद्धा का शव काटा गया, यह CFSL रिपोर्ट आने के बाद पता लगेगा। इस केस में आफताब और श्रद्धा को फ्लैट दिलाने वाले बद्री का कोई रोल संदिग्ध अभी तक नहीं मिला है। उसने केवल इन्हें मकान दिखाया था।

 

ये भी पढ़े:

मृत चूहे का बरेली IVRI में हुआ पोस्टमार्टम, रिपोर्ट आने के बाद होगी कार्रवाई



(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)