तो तीरथ के भी सारथी बनेंगे सारंगी!

0
129

 

द लीडर देहरादून

शुक्रवार को दिल्ली जाकर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को एक ऐसे आईएएस से मिलवाया गया जो यहां डीएम से लेकर मुख्यमंत्री के सचिव पद तक लंबी पारी खेल चुके हैं और एक कडक मुख्यमंत्री की बदनामी की वजह भी रहे। नाम है प्रभात सारंगी। अपर मुख्य सचिव का पद है और फिर उत्तराखंड आना चाहते हैं। ये मुलाकात यहां दो दिन से चर्चा का विषय बनी है।
तीरथ के गुरु पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी के सचिव रहे सारंगी से उनकी मुलाकात हाल ही सीएमओ में लिए गए अरुणेंद्र चौहान ने करायी। अरुणेंद्र एक जमाने में सारंगी के सहायक थे। सारंगी का दूसरा सूत्र खंडूड़ी जी की विधायक पुत्री ऋतु भी हैं, जिनके पति सारंगी के बैचमेट हैं। बताते हैं कि सारंगी की नज़र मुख्य सचिव की कुर्सी पर है।
इस मुलाकात से नौकरशाही में हलचल मच गई है। बंद कमरे में 15-20 मिनट बातचीत का क्या नतीजा रहा अभी प्रकट नहीं हुआ। 1986 बैच के आईएएस प्रभात कुमार सारंगी दिल्ली में उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य स्थानिक आयुक्त रहे है। एडिशनल चीफ सेक्रेटरी पद पर हैं। और अप्रैल 2022 में रिटायर होंगे।
तीरथ रावत अफसरों की टीम बनाने में जुटे हैं लेकिन अभी तक टीम को मुकम्मल आकार नहीं दिया जा सका। टीम पूरी नहीं होने के कारण शासकीय कामकाज में अभी रवानगी का खासा अभाव देखने को मिल रहा है।
सीएम तीरथ ने पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत के करीबी अधिकारियों की विदायी कर साफ संकेत दे दिये हैं कि जल्द ही मुख्य सचिव भी बदलेगा।
दिल्ली में सक्रिय हुए सारंगी को लेकर सत्ता के गलियारों का माहौल काफी गर्म हो गया है। अधिकारियों व भाजपा का एक हिस्सा सारंगी के पूर्व के कार्यकाल को याद करते हुए उन्हें खंडूडी के असमय विदायी के प्रमुख कारण भी गिनाने लगे है। 2007 से 2012 के बीच प्रभात कुमार सारंगी की तूती बोलती थी। लेकिन दूसरे कार्यकाल में खंडूड़ी उन्हें अपनी टीम का हिस्सा नहीं बना पाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here