आरबीआई ने लिया बड़ा फैसला, रेपो रेट में लगातार आठवीं बार कोई बदलाव नहीं

0
38

द लीडर हिंदी: करीब तीन दिन तक चली भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति ने बैठक के बाद रेपो रेट को लेकर बड़ा फैसला किया है. शुक्रवार को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में लगातार आठवीं बार नीतिगत दर रेपो में कोई बदलाव नहीं किया और इसे 6.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा. महंगाई को टिकाऊ स्तर यानी चार प्रतिशत पर लाने और वैश्विक अनिश्चितता के बीच आर्थिक वृद्धि को गति देने के मकसद से नीतिगत दर को यथावत रखा गया है.

वही आरबीआई के गवर्नर शक्तिकान्त दास ने मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बुधवार को शुरू हुई तीन दिन की बैठक में लिए गए निर्णय की शुक्रवार को जानकारी दी.इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इसके साथ एमपीसी सदस्यों ने लक्ष्य के अनुरूप खुदरा महंगाई को लाने के लिए उदार रुख को वापस लेने के अपने निर्णय को भी कायम रखने का फैसला किया है.रिजर्व बैंक ने चुनाव के बाद अपनी पहली मौद्रिक नीति समीक्षा में रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है.

फ़िलहाल ये 6.5 फीसदी पर ही बना हुआ है.आरबीआई ने 2022 में रेपो दरों में बढ़ोतरी शुरू की थी और अब तक ये 250 बेसिस प्वाइंट बढ़ चुकी है. आरबीआई के सामने अभी भी महंगाई दर चुनौती बनी हुई है. हालांकि रिटेल महंगाई दर में कमी के संकेत है. लेकिन खाद्य महंगाई दर ऊंची बनी हुई है. फिलहाल मानसून की चुनौती बनी हुई है. हालांकि आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मानसून की बारिश अच्छी रहने की संभावना है. आरबीआई ने कहा है कि ग्रोथ रेट भी अच्छा है. वित्त साल 2023-24 के दौरान ग्रोथ रेट 8.2 फीसदी रहा है.https://theleaderhindi.com/this-time-the-opposition-will-be-very-strong-it-has-been-proved-that-only-the-people-have-the-strength/