कुदरत का सितम : पाकिस्तान में भारी बारिश और बाढ़ से तबाही, कई इलाके में डूबे, पुल व सड़कें बही

0
214

द लीडर। देश के कई हिस्सों में इन दिनों भारी बारिश का कहर देखने को मिल रहा है। हालात ये है कि, हर दिन भारी बारिश के चलते हादसे देखने को मिल रहे हैं। सड़कें तालाब बन चुकी है तो वहीं कई नदियों का जलस्तर काफी बढ़ गया है। फिलहाल मौसम विभाग ने कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है इसके साथ ही कई जिलों में आकाशीय बिजली गिरने की आशंका जताई है। वहीं पड़ोसी देश पाकिस्तान में भी भारी बारिश से हालात बेकाबू हो चले हैं।


यह भी पढ़ें: परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी ने कहा ,कि कभी कभी राजनीति छोड़ने का मन करता है।

 

हिमाचल प्रदेश में बादल फटने के बाद रविवार की रात भर तेज बारिश हुई। जिसके कारण ब्यास नदी का जलस्‍तर काफी बढ़ गया है जिसके कारण कई इलाकों में बाढ़ आ गई है। वहीं पुल समेत कई रास्तें बाढ़ में बह गए। प्रशासन ने लोगों को उफनती नदियों से दूर रहने को कहा है। फिलहाल यहां हालात काफी खराब होते दिख रहे हैं।

देश के मध्य प्रदेश राज्य में भी भारी बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। सड़क नदियां सब जलमग्न हो गए हैं। वहीं नदियों का जलस्तर ढ़ने से कई क्षेत्रों में खतरे की घंटी बजने लगी हैं।

पाकिस्तान में बाढ़ से त्राहि-त्राहि

इन दिनों पाकिस्तान में बाढ़ से तबाही मची हुई है। कोहिस्तान में अचानक आई बाढ़ से यहां लगभग 10 घर और मिनी पावर स्टेशन बह गए। डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रांतीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों का कहना है कि, भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ से शहरों में भारी तबाही मची हुई है।

यहां एक की मौत दो लोग घायल हो गए हैं। कोहिस्तान में बाढ़ में मिनी पावर स्टेशन बह जाने से कई इलाके अंधेरे में डूब गए है। वहां बिजली और पानी का संकट बना हुआ है। फिलहाल प्रशासन रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटा हुआ है।

बलूचिस्तान में बारिश का कहर, अब तक 100 की मौत

पाकिस्तान में भारी बारिश के सितम के चलते हजारों लोगों को दक्षिण-पश्चिम बलूचिस्तान प्रांत में विस्थापित होना पड़ा है। वहीं पीडीएमए ने कहा कि, प्रांत में हाल ही में हुई भारी बारिश में मारे गए 100 लोगों में महिलाएं, बच्चे और पुरुष शामिल हैं। इसके साथ ही 57 लोग गंभीर रूप से घायल हैं।

पीडीएमए ने बताया कि, बारिश, बाढ़ की वजह से अब तक बलूचिस्‍तान में 6 हजार से ज्यादा घर ध्वस्त हो गए हैं। वहीं प्रांत के चार प्रमुख राजमार्गों के साथ 550 किलोमीटर सड़क भी बारिश की भेंट चढ़ गई है। आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के मुताबिक, भारी बारिश से 712 से अधिक जानवरों की मौत हो गई है। फिलहाल एनडीएमए की तरफ से प्रभावित लोगों को राहत सामग्री उपलब्ध करवाई जा रही हैं।

पाकिस्तान के कई हिस्सों में भारी बारिश की स्थिति बनी हुई। कराची और पेशावर मे भीषण बारिश का प्रकोप रविवार को देखा गया। अचानक आई बाढ़ से देश में दो लोगों की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए हैं।

कोहिस्तान में बाढ़ में लगभग 50 घर बह गए

तहसीलदार मुहम्मद रियाज ने बताया कि, ऊपरी कोहिस्तान में बाढ़ में लगभग 50 घर बह गए, प्रशासन ने पांच टीमों का गठन किया है, जिन्हें राहत कार्य और नुकसान के आंकलन के लिए प्रभावित क्षेत्रों में भेजा गया है।

कुदरत का कहर दुनियाभर में देखने को मिल रहा है। हर तरफ भारी बारिश के चलते हाहाकार मचा हुआ है। भारत के कई राज्यों में भी हालात बेहद खराब होते दिख रहे है। इसके साथ ही पाकिस्तान में भा हालात काफी खराब होते दिख रहे हैं। वहां कई घर और रास्ते बाढ़ में बह चुके हैं। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा रहा है। इसके साथ ही प्रभावितों को राहत सामग्री उपलब्ध कराई जा रही हैं।


यह भी पढ़ें:  पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पर विदाई के दिन मेहबूबा मुफ़्ती ने साधा निशाना।