पिछले साल बजाज ऑटो बनी दुनिया की सबसे बड़ी टू व्हीलर कंपनी

0
767

‘बुलंद भारत की बुलंद तस्वीर…हमारा बजाज’…. इस विज्ञापन से भारत के जनमानस पर छाप छोड़ चुकी बजाज कंपनी ने पिछले साल कमाल कर दिया था। 1 जनवरी 2021 को दुपहिया वाहन निर्माता कंपनी बजाज ऑटो का मार्केट कैप बढ़कर एक लाख करोड़ से ऊपर पहुंच गया, जिससे वह दुनिया की नंबर वन टू व्हीलर कंपनी बन गई। (Two Wheeler Company Bajaj)

बजाज ने विश्लेषकों का हवाला देते हुए दावा किया था कि दुनिया में किसी अन्य कंपनी का बाजार पूुंजीकरण 1 लाख करोड़ से अधिक नहीं हुआ, इसलिए ऐसा हुआ। शेयर में तेजी से उछाल आया।

कंपनी का भारत में टू-व्हीलर मार्केट पर बरसों से पसंदीदा है और 70 से अधिक देशों में अपने वाहनों का निर्यात करती है। बीते 75 साल से इस क्षेत्र में कंपनी ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

‘मोटरसाइकिल श्रेणी में कंपनी का तेज फोकस और भेदभाव की रणनीतियों के बावजूद वैश्विक महत्वाकांक्षाओं के साथ अटूट प्रतिबद्धता ने बजाज को दुनियाभर में सबसे मूल्यवान दोपहिया कंपनी बना दिया है। इससे हम प्रेरित हुए, बजाज ऑटो के प्रबंध निदेशक राजीव बजाज ने कहा। (Two Wheeler Company Bajaj)

राहुल बजाज ने 1965 में बजाज समूह की कमान संभाली थी। उस समय भारत एक बंद अर्थव्यवस्था थी। उन्होंने कंपनी का नेतृत्व करते हुए बजाज चेतक नाम का स्कूटर बनाया। इस स्कूटर को काफी नाम मिला और इसे भारत के मध्यम वर्गीय परिवार की आकांक्षा का सूचक माना गया। इसके बाद कंपनी लगातार आगे बढ़ती चली गई।

मशहूर उद्योगपति राहुल बजाज का लंबी बीमारी के बाद आज निधन हो गया। बजाज पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे और कैंसर पीड़ित भी बताए जा रहे थे। उनकी तरफ से समाज को दिए गए योगदान के चलते उन्हें 2001 में पद्म भूषण सम्मान से भी नवाजा गया था।


यह भी पढ़ें: मशहूर बिजनेसमैन राहुल बजाज का 83 साल की उम्र में निधन


(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here