अखिलेश यादव की शेरवानी और रामपुर में अब्दुल्ला आज़म ख़ान के दोस्तों पर गैंगेस्टर एक्ट

0
209

The Leader. अपने सीनियर लीडर मुहम्मद आज़म ख़ान की हिमायत में समाजवादी पार्टी अपनी तो रामपुर पुलिस कार्रवाई को लेकर अपनी राह है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और उनके एमएलए सदन में शेरवानी पहनकर पहुंचे तो उसी दिन शाम में पुलिस ने आज़म ख़ान और अब्दुल्ला आज़म के ख़ास कहे जाने वाले लोगों पर एक और कार्रवाई की. मुहम्मद आज़म ख़ान के ख़ास नगर पालिका परिषद के चेयरमैन अज़हर अली ख़ान और अब्दुल्ला आज़म के चार दोस्तों को रामपुर पुलिस ने गैंगेस्टर घोषित किया है.


रामपुर से आज़म ख़ान का नाम मिटा देने का एलान करने वाले फ़रहत अली भेज दिए गए जेल


इन पांच लोगों पर नगर पालिका परिषद रामपुर की धूल साफ़ करने वाली मशीन को चुराने और उसे आज़म ख़ान की जौहर यूनिवर्सिटी में इस्तेमाल करने के बाद वहीं ज़मीन के नीचे दबा देने का इल्ज़ाम है. जौहर यूनिवर्सिसटी पर छापा मारकर पुलिस इस मशीन को पहले ही बरामद कर चुकी है. पुलिस ने पांच माह पुराने इस मुक़दमे में मुरादाबाद जेल में बंद अज़हर ख़ान के अलावा सालिम, अनवार, तालिब और प्रतीक को नामज़द किया गया था. पांचों के ख़िलाफ़ चार्जशीट दाख़िल की जा चुकी है. मुरादाबाद की स्पेशल एमपी, एमएलए कोर्ट से दो साल की सज़ा होने और अब्दुल्ला आज़म की विधायकी जाने के बाद रामपुर पुलिस ने पूर्व नगर पालिका परिषद चेयरमैन समेत पांच को गैंगेस्टर घोषित कराकर बड़ी कार्रवाई की है.


का ब फेम गायिका नेहा राठौर को पुलिस का नोटिस और अखिलेश यादव का यह ग़ुस्सा


इस बाबत एएसपी रामपुर संसार सिंह का कहना है कि जिन पर गैंगेस्टर लगाई गई है, उन्होंने अपराध आज़म ख़ान और अब्दुल्ला आज़म की शह पर किया था. यानी इस मुक़दमे में आज़म ख़ान और अब्दुल्ला आज़म की भी भूमिका है. एसपी रामपुर की संस्तुति पर डीएम के पांचों पर गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई कर देने के बाद अब इन सभी की अवैध संपत्ति को ज़ब्त किए जाने की तैयारी है. दूसरी तरफ बरेली में आज़म ख़ान के ही क़रीबी कहलाने वाले पूर्व मंत्री भगवत शरण गंगवार को भी कोर्ट में सरेंडर करने के बाद समर्थकों के साथ जेल भेज दिया गया. उन पर नवाबगंज में विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा प्रत्याशी पर जानलेवा हमला करने के मामले में पुलिस उन समेत 10 लोगों पर चार्जशीट दाख़िल कर चुकी है. कोर्ट में पेश नहीं हुए तो वारंट जारी कर दिया गया था. उनके घर पर नोटिस भी चस्पा किया गया था.