इलाहाबाद, फैजाबाद के बाद क्या अब बदलेगा लखनऊ का नाम… CM योगी के ट्वीट से लग रही अटकलें

0
117

द लीडर। एक बार फिर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का नाम बदलने के अटकलें लगनी शुरू हो गई हैं। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वागत में सीएम योगी के एक ट्वीट से लखनऊ का नाम बदले जाने की अटकलें लगने लगीं हैं।

पीएम मोदी के स्वागत में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर लिखा कि, ‘शेषावतार भगवान श्री लक्ष्मण जी की पावन नगरी लखनऊ में आपका हार्दिक स्वागत व अभिनंदन…’

सीएम योगी ने यह ट्वीट अमौसी एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत करते हुए खींची गई फोटो को टैग करते हुए किया है। इस ट्वीट के बाद यह सवाल उठने लगा है कि, लखनऊ का नाम लक्ष्मण जी के नाम पर किया जा सकता है। यह अटकलें इसलिए भी लगाई जा रही हैं, क्योंकि इससे पहले लखनऊ का नाम बदलकर लखनपुरी, लक्ष्मणपुरी और लखनपुर करने की मांग उठाई जा चुकी है।


यह भी पढ़ें: Gyanvapi Controversy के बीच अब श्रीरंगपट्टन की जामा मस्जिद को बताया हनुमान मंदिर, हिंदू संगठन ने किया ये दावा

 

इन जिलों का नाम बदल चुकी है योगी सरकार

योगी सरकार ने इससे पहले कई जगहों के नाम बदले हैं। इलाहाबाद और फैजाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज और अयोध्या किया जा चुका है। हालांकि सीएम के आधिकारिक ट्विटर हैंडिल से इसी तस्वीर के साथ किए गए ट्वीट की भाषा बदली हुई है। इसमें उन्होंने इस ट्वीट में लखनऊ के चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर स्वागत की बात लिखी है।

लखनऊ का नाम लखनपुरी करने की उठी थी मांग

लखनऊ के सांसद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के लखनऊ दौरे पर 14 मई को प्रख्यात साहित्यकार पद्मश्री विद्या बिंदु सिंह ने लखनऊ का नाम लखनपुरी करने की मांग रखी तो कल सीएम योगी आदित्यनाथ के एक ट्वीट से इसको मजबूती मिली है।

उत्तर प्रदेश में भाजपा की योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले कार्यकाल में प्रारंभ हुआ शहरों के नए नामकरण का काम अभी भी जारी रहेगा। इलाहाबाद का नाम प्रयागराज और फैजाबाद का नाम अयोध्या करने के बाद कई अन्य शहरों के नाम बदलने की भी मांग तेजी से उठ रही है। अब राजधानी लखनऊ की बारी है। पूर्व राज्यपाल स्वर्गीय लालजी टंडन ने इसके लिए सरकार से गुजारिश की थी।

धार्मिक ग्रंथों के अनुसार लखनऊ को लक्ष्मणपुर कहा जाता था

उन्होंने कहा था कि, लखनऊ का नाम बदलकर लक्ष्मणपुर करना चाहिए। उन्होंने कहा था कि लखनऊ को लक्ष्मण ने बसाया था और लखनऊ शहर को धार्मिक ग्रंथों के अनुसार लक्ष्मणपुर के नाम से जाना जाता था।

लखनऊ से सांसद और पूर्व मंत्री रहे स्वर्गीय लालजी टंडन ने एक किताब लिखी, जिसमें लखनऊ को लक्ष्मण नगरी बताया गया है। इसके कई प्रमाण भी दिए। लखनऊ में लक्ष्मण टीला, लक्ष्मण पुरी, लक्ष्मण पार्क समेत कई ऐसे स्थान हैं। जो भगवान लक्ष्मण के नाम पर हैं।

इतिहास के दस्तावेजों में स्पष्ट लिखा है कि, यह शहर पहले लक्ष्मण पुरी था। उसके बाद लखनपुरी हुआ, जो आगे चलकर लखनऊ हो गया। लखनऊ को कौशल राज का हिस्सा बताया गया है। भगवान श्रीराम चंद्र के भाई लक्ष्मण ने इस शहर को बसाया था।

पीएम मोदी ने योगी सरकार के मंत्रियों को पढ़ाया सुशासन का पाठ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार शाम यहां योगी सरकार के मंत्रियों को सुशासन का पाठ पढ़ाया। उन्होंने मंत्रियों को संगठन के साथ समन्वय करके काम करने तथा जनता से सतत संवाद स्थापित कर उनकी आकांक्षाओं पर खरा उतरने की नसीहत दी। पीएम मोदी कुशीनगर के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद शाम लखनऊ पहुंचे।


यह भी पढ़ें:  भारत में 50% पर्यटन मुगलों के कारण है, भाजपा पर्यटन क्षेत्र को नष्ट करना चाहती है : महबूबा मुफ्ती