PM मोदी ने ऐतिहासिक मिस्र यात्रा के यादगार लम्हें किए साझा; बोले- दोनों देशों के संबंधों में आएगी नई ताकत

0
142

काहिरा: भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अमेरिका और मिस्र की राजकीय यात्रा समाप्त हो चुकी है। प्रधानमंत्री मोदी रविवार को दिल्ली के लिए रवाना हुए। उन्होंने मिस्र की अपनी राजकीय यात्रा को ऐतिहासिक बताया है। बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत पार्टी के कई नेता प्रधानमंत्री मोदी को रिसीव करने के लिए एयरपोर्ट पहुंचेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर मिस्र के राष्ट्रपति को अब्देल फतह अल-सीसी को धन्यवाद दिया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, मेरी मिस्र यात्रा ऐतिहासिक थी, इससे भारत-मिस्र संबंधों में नई ताकत आएगी और हमारे देशों के लोगों को लाभ होगा। मैं राष्ट्रपति, सरकार और मिस्र के लोगों को उनके स्नेह के लिए धन्यवाद देता हूं।

मिस्र की दो दिवसीय यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गीजा के पिरामिड का भी दौरा किया। गीजा का पिरामिड प्राचीन विश्व के सात अजूबों में से सबसे पुराना है, जिसका निर्माण 26वीं शताब्दी ईसा पूर्व की शुरुआत में लगभग 27 वर्षों की अवधि में हुआ था। इस बीच, प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर लिखा, मेरे साथ पिरामिड में जाने के लिए प्रधानमंत्री मुस्तफा मैडबौली को धन्यवाद देता हूं। हमने अपने राष्ट्रों के सांस्कृतिक इतिहास और आने वाले समय में इन संबंधों को कैसे प्रगाढ़ किया जाए। इस पर गहन चर्चा की।

प्रधानमंत्री मोदी ने ‘ऑर्डर ऑफ द नाइल’ सम्मान के लिए मिस्र की सरकार और वहां की जनता का आभार जताया। उन्होंने कहा, बड़ी विनम्रता के साथ मैं ऑर्डर ऑफ द नाइल सम्मान स्वीकार करता हूं। मैं इस सम्मान के लिए मिस्र की सरकार और यहां के लोगों को धन्यवाद देता हूं। यह भारत और हमारे देश के लोगों के प्रति उनकी गर्मजोशी और स्नेह को दर्शाता है।